हल्द्वानी:12 मार्च 2018

रविवार देर रात लोग सो रहे थे उस वक्त हल्द्वानी स्थित बरेली रोड़ पर खून खराबा हो रहा था। पैसों के लेकर दो गुट में हुए विवाद ने हथापाई की शक्ल ले ली। विवाद इतना बढ़ गया था कि पुलिस फॉर्स को शहर के माहौल को स्थिर बनाए रखने के लिए मोर्च पर उतरना पड़ा। वही सिटी मजिस्ट्रेट पंकज उपाध्याय और एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव भी घटना स्थल पर मौजूद रहे। मामला बरेली स्थित पाल कॉम्लेक्स गांधीनगर का है। विवाद की जड़ पैसों का लेनदेन रह।

मामले के अनुसार गांधीनगर निवासी आदित्य सोनकर और शिवा के बीच पैसों को लेकर विवाद चल रहा था। पुलिस को सौपी तहरीर में शिवा के पिता दीना ने पुलिस को बताया कि रविवार रात साढ़े नौ बजे आदित्य ने शिवा को बरेली रोड स्थित पाल कांप्लेक्स के पास आने को कहा। जैसे ही शिवा वहां पहुंचा तो मारपीट शुरू हो गई। शिवा के साथ उसका चचेरा भाई चचेरा भाई था। दूसरे पक्ष के अक्षय, छोटू, मोहित, मनीष और सोम ने जमकर मारपीट की। दोनों को मारते हुए आरोपित अंबेडकर नगर तक ले आए।

गांधीनगर में पथराव फायरिंग
फोटो सोर्स- अमर उजाला

वहीं दूसरे पक्ष के घायल सोम सोनकर का आरोप है कि  शिवा को उसके बड़े आदित्य के पैसे देने है। भाई ने  शिवा को पैसे लौटाने को कहा था। इतने में शिवा क्रोधित हो गया और अपने 10-12 साथियों के साथ मिलकर मारपीट करने लगा। हमनें उसे समझाने की कोशिश की लेकिन वो नहीं माना और उन्होंने फायरिंग भी शुरू कर दी। शिवा के पक्ष के लोगों ने हम पर पथराव भी किए और बेसबॉल के डंडे से भी पीटा।

पथराव के बीच सोम, ब्रजेश, मोहित और शिवा घायल हो गए। घायलों को बेस और एसटीएच लाया गया। मोहित के मुंह पर पत्थर लगने पर उसे कृष्णा अस्पताल रेफर किया गया है। पुलिस ने मामले में दीना, सोम और ब्रिजेश को फिलहाल हिरासत में ले रखा है। इस मामले पर एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव ने कहा कि पुलिस मामले की जांच कर रही है और इसके बाद ही कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि गांधीनगर में बड़े पैमाने पर चरस का धंधा चलता है। पिछले कुछ वक्त से सट्टे का बड़ा कारोबार यहां जन्म ले चुका है जो अब अपने पैर फैला रहा है।