नई दिल्ली। आंतक के सहारे दुनिया को अपनी ताकत दिखाने वाले पाकिस्तान विश्व के सामने हर बार किरकिरी होती है। कई देशों ने इशारों इशारों में पाकिस्तान को आंतक का जन्मदाता तक कह दिया है। अपनी आंतकी गतिविधियों से भारत के माहौल को खराब करने जुटे पाक की नापाक हरकत पूरी दुनिया देख रही है। कई भारत सहयोगी देशों ने पाकिस्तान को चेतावनी तक दे दी है। लेकिन आंतक का जन्मदाता सुधरने का नाम नही ले रहा है। भारत के मामलों में अपनी दखल देने वाले पाकिस्तान को अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने खुली चेतवानी दे दी है। अशरफ गनी ने  भारत के साथ कारोबार के संधर्भ में पाकिस्तान को आडे हाथ लिया है। गनी ने पाकिस्तान को कहा कि अगर पाकिस्तान भारत के साथ हो रहे मतभेदों के कारण व्यापार को चोट पहुंचाएगा तो अच्छा नही होगा। उन्होने कहा कि पाकिस्तान अगर अफगानी व्यापारियों के लिए लाहौर स्थित वाघा बॉर्डर को नहीं खोलेगा तो अफगानिस्तान भी पाकिस्तानी व्यापारियों के लिए ट्रांजिट रूट को बंद कर देगा।

 

खबर के मुताबिक, अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने ब्रिटेन के विशेष दूत ओवेन जेनकिंस के साथ हुई मीटिंग के समय कहा कि यदि पाकिस्तान ने अफगान व्यापारियों को उनके सामान के आयात और निर्यात के लिए वाघा – बॉर्डर का इस्तेमाल करने पर रोक लगाई  तो अफगानिस्तान भी पाकिस्तान को अफगान ट्रांजिट रूट का प्रयोग नहीं करने देगा।’ गनी ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि अफगानिस्तान अब पहले की तरह जमीन से घिरा हुआ देश नहीं है और उसके पास भी आयात और निर्यात के लिए कई रास्ते हैं। बता दे कि पाकिस्तान के व्यापारी ट्रांजिट रूट्स का इस्तेमाल करते हुए सेंट्रल एशिया और अन्य देशों से व्यापार करते हैं। पाकिस्तान पिछले कुछ समय से अफगानिस्तान और भारत के मधुर रिश्तों से खफा है और वो अपनी भड़ास निकालने के लिए अफगानी व्यापारियों को परेशान कर रहा है। अब देखना दिलचस्प होगा कि अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी की धमकी के बाद पाकिस्तान को अकल आती है या नही।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now