हल्द्वानी: मानसिक रोग की बीमारियां इंसान को काफी परेशान कर देती हैं। तनाव, चिंता और अवसाद इंसान को अंदर से इतना कमजोर बना देते हैं कि धीरे—धीरे उसकी सेहत पर विपरीत प्रभाव पड़ने लगता है। घबराहट यह एक गंभीर समस्या है। ये किसी भी तरह की हो सकती है जैसे लिफ्ट में थोड़ी देर खड़े होने पर, भीड़ वाली जगह पर, बंद कमरे या दरवाजा बंद होने पर घबराहट या किसी चिंता का होना आदि। यदि आपको किसी भी तरह की एैसी समस्या है तो चिंता ना करें। हल्द्वानी साहस क्लीनिक के डॉक्टर एनसी पांडे ने बताया कि इस तरह की परेशानी से काम करने में भी मन नहीं लगता है। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी बाते में घबराहट होने लगती है। इस विषय में उन्होंने होम्योपैथिक दवाएं बताए। उन्होंने कहा कि इन दवाओं के सेवन से रोगी की परेशानी जरूर दूर होगी।