उत्तराखंड की विधानसभा में जमकर हुआ हंगामा,मामला विधानसभा की सीढी तक पहुंचा

देहरादूनः उत्तराखंड में आज सोमवार से विधानसभा सश्र शुरू हो गया। सश्र में शुरूआत से ही हंगामा होने लगा जिसका मुख्य कारण राज्यपाल का अभिभाषण समय से पूर्व कराना बताया गया। जिसपर विपक्ष ने जमकर हंगामा काटा । विपक्ष ने उत्तराखंड सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए विधानसभा परिसर की सीढ़ियों पर धरना करने बैठ गये जिसके बाद हंगामा और बढ़ गया । विपक्ष ने हंगामे में राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत के इस्तीफे की भी मांग करी। कांग्रेस विधायकों ने आरोप लगाया राज्यपाल ने अभिभाषण पढ़ना समय से पहले ही शुरू कर दिया था। वहीं, राज्यपाल की तबीयत खराब होने की वजह से सदन तीन बजे तक स्थगित कर दिया है। जहरीली शराब पर भी विपक्ष ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और सरकार के इस्तीफे की मांग की।नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश ने सवाल उठाया कि 11 बजे से पहले राज्यपाल का अभिभाषण कैसे शुरू हुआ उन्होंने सदन की परंपरा तोड़ने का आरोप लगाया वहीं जहरीली शराब कांड पर विपक्ष ने आबकारी मंत्री के इस्तीफे की मांग भी की जिसके बाद राज्यपाल के अभिभाषण का बहिष्कार कर विपक्ष ने वॉकआउट कर दिया और कांग्रेसी विधायक धरने पर बैठ गए। लोकसभा  चुनाव के नजदीक होने से भी कांग्रेस ने उत्तराखंड सरकार को घेरने में कोई कमी नहीं रखी। हंगामे का मुख्य कारण शराब कांड बताया जा रहा है। हरिद्वार जिले में जहरीली शराब के सेवन से अब तक 34 लोगों की मौत होने से पुलिस और प्रशासन में हड़कंप मच गया है। वहीं हरिद्वार और उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में 100 से अधिक लोगों को मौत की नींद सुलाने वाले इस जहरीली शराब कांड से दोनों राज्यों की जनता में रोष व्याप्त है।

नैनीताल में पिता की डांट से 11वीं के छात्र ने घर में लगाई फांसी , जानें पूरा मामला

जानकारी के लिए बता दें विधानसभा का बजट सत्र सोमवार को शुरू हो गया सोमवार को बजट सत्र के पहले दिन राज्यपाल बेबी रानी मौर्य राज्यपाल बनने के बाद पहली बार सदन में अभिभाषण किया सरकार का बजट 15 फरवरी को सदन के पटल पर रखा जाएगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रुद्रपुर में प्रस्तावित रैली को देखते हुए 14 फरवरी को सदन नहीं चलेगा कार्यमंत्रणा समिति ने रविवार को 11 से 15 फरवरी तक के कार्यक्रमों पर मुहर लगा दी थी।