अल्मोड़ा विधानसभा सीट से टिकट ना मिलने से नाराज़ चल रहे पूर्व विधायक कैलाश शर्मा को बीजेपी ने अपना नया प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया है। और ये सब हुआ एक डील के तहत। अल्मोड़ा विधानसभा सीट से कैलाश शर्मा ने टिकट के मजबूत दावेदारों में से एक थे पर बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति ने वहां से उनके प्रतिद्वंदी रघुनाथ सिंह चौहान को विधायक का टिकट थमा दिया जिसके बाद से वो नाराज़ हो गए। पार्टी को डर था कि कहीं वे इस बार भी बागी होकर निर्दलीय चुनाव ना लड़े इसलिए उन्हें मैनेज करने के लिए पार्टी ने उनसे बातचीत की। हम आपको बता दे 2012 में भी पार्टी ने अंतिम वक्त पर उनका टिकट काटकर रघुनाथ सिंह चौहान को दे दिया था जिससे नाराज होकर वो निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर खड़े हुए और बीजेपी ये सीट हार गई पर इस बार पार्टी कोई जोखिम नहीं लेना चाहती थी इसलिए उन्हें मनाने की कोशिश हर स्तर पर प्रदेश के नेताओं ने की। आखिर में कैलाश शर्मा ने एक डील के तहत रघुनाथ सिंह चौहान के लिए प्रचार करने की हामी इस शर्त पर भरी कि उनकी अनदेखी बीजेपी में नहीं होगी और उन्हें प्रदेश में बड़ा पद दिया जाएगा जो उन्हें बगावत ना करने के फैसले पर ईनाम के तौर पर दिया गया है।कैलाश शर्मा इससे पहले प्रदेश के युवा संगठन अध्यक्ष भी रह चुके है। उत्तराखंड बनने के बाद हुए पहले हुए विधानसभा चुनाव में अल्मोड़ा सीट से वो बीजेपी के टिकट पर विधायक बन चुके हैं।

 

hemraj

हेमराज चौहान- टीवी पत्रकार 

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now