लालकुआं।बिन्दुखत्ता क्षेत्र के दलित कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने  राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा से भेंटकर उनसे मांग की कि बिन्दुखत्ता क्षेत्र दलित बाहुल्य क्षेत्र है। इसलिए इसे आगामी नगरपालिका के चुनाव में अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया जाये।

दलित कांग्रेसी नेता जीवन आर्या के नेतृत्व में दिल्ली जाकर राज्यसभा सांसद प्रदीप टम्टा से भेंट करते हुए शिष्ट मंडल ने कहा कि भाजपा समर्थित एक एनजीओ ने उच्चतम न्यायालय में जनहित याचिका लगाकर बिन्दुखत्ता क्षेत्र में विद्युत विस्तार व संयोजन पर रोक लगा दी है। जिसके चलते वहां के लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होने मांग की कि वह अपनी ओर से उच्चतम न्यायालय में पेरवी कर उक्त रोक को हटाने में सहयोग करें तांकि बिन्दुखत्ता का समुचित विकास हो सके। साथ ही आने वाले समय में बिन्दुखत्ता नगरपालिका के होने वाले चुनाव में बिन्दुखत्ता नगरपालिका को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया जाये। क्योंकि बिन्दुखत्ता दलित बाहुल्य क्षेत्र है। शिष्टमंडल को आश्वासन देते हुए सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा कि बिन्दुखत्ता के समुचित विकास के लिए ही वहां मुख्यमंत्री हरीश रावत ने दूरगामी सोच का परिचय देते हुए नगरपालिका का गठन किया है। आने वाले समय में विकास में आड़े आ रही सभी बाधायें दूर करके बिन्दुखत्ता उाराखंड का सबसे विकसित नगर पालिका बनने वाला है। शिष्टमंडल में सामाजिक कार्यकर्ता हरीश लाल, महेश आर्या व मनोज टम्टा शामिल थे।