क्रिकेट पिच पर उत्तराखण्ड एक्सप्रेस का मचा धमाल, दिग्गज बोलें भारत खेलेगा ये

2918

नई दिल्ली: भारतीय टीम ने अंडर-19 क्रिकेट विश्वकप के पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को 100 रनों से हराया। अपने ग्रुप को टॉप करने के लिहाज से ऑस्ट्रेलिया को रहना बेहद महत्वपूर्ण था। भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 328 रन बनाए। इस मैच में भारतीय खिलाड़ियों का प्रदर्शन शानदार रहा। लेकिन एक गेंदबाज ऐसा रहा जिसने पूरे क्रिकेट जगत को अपनी प्रशंसा करने पर मजबूर कर दिया। जी हां हम बात कर रहे है भारतीय ऑलराउंडर कमलेश नगरकोटी की। कमलेश ने पहले मैच में तीन विकेट हासिल किए और केवल 29 रन दिए। क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ियों को नगरकोटी की स्पीड ने प्रभावित किया।  कमलेश ने सात ओवर डाले और उन्होंने 145 प्रति घंटे की स्पीड लगातार बनाए रखी। इस बीच उन्होंने 147 के आंकडे़ को भी छुआ। कमलेश ने 2017 में ही अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट करियर की शुरूआत की है और तभी से लोगों को प्रभावित किया है। उन्होंने इंग्लैंड में एक टेस्ट में 10 विकेट लेने का करिश्मा भी किया है। वह राजस्थान की टीम से खेलते है।

अंडर 19 व‌र्ल्ड कप में आस्ट्रेलिया के खिलाफ कमलेश नगरकोटी ने शानदार प्रदर्शन किया। उनके बेहतरीन गेंदबाजी के कारण भारत विजयी रही। उनके इस प्रदर्शन से कमलेश के पैतृक गांव में खुशी की लहर हैं। गांव में मिठाई बांट कमलेश के उच्च्वल भविष्य की कामना की।

कमलेश की तेज गेंदबाजी ने सभी को सोचने पर मजबूर कर दिया कि 18 साल का गेंदबाज इतनी तेज गेंदबाजी कैसे कर रहा है। भारत के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने तो सोशल मीडिया पर कमलेश की तारीफ के पुल बांधे और विराट कोहली समेत बीसीसीआई को कमलेश पर नजर रखने को कहा। भारतीय टीम के पास स्विंग गेंदबाज कई आए है लेकिन कोई ऐसा नहीं आया जिसकी गति विरोधियों को डरा सके। सौरभ गांगुली भी कुछ ऐसा ही समझते है। उन्होंने कमलेश के अलावा शिवम मावी की भी तारीफ की। शिवम ने भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीन विकेट लिए।