नई दिल्ली छत्तीसगढ़ के रायपुर में गैंगरेप का एक सनसनीखेज और शर्मसार करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक मॉल में काम करने वाली महिला की उसके ही सहकर्मियों ने इज्जत लूट ली । महिला अपने सहकर्मियों के साथ क्रिसमस की छुट्टी पर मौज-मस्ती के लिए मोआ इलाके में गई हुई थी। वहां सहकर्मियों ने उसकी इज्जत लूट डाली। पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

मीड़िया को मिली जानकारी के मुताबिक, 24 वर्षीय एक विधवा महिला रायपुर के एक मॉल में काम करती है। क्रिसमस की छुट्टी पर उसने अपने सहकर्मी सुरेश साहू के साथ सैर-सपाटे का प्लान बनाया था । कुछ  ही देर बाद उनके तीन और साथी इस ट्रिप पर जाने के लिए तैयार हो गए। बताया जा रहा है कि चार लड़के और पीड़ित महिला पूरे ट्रिप में सामान्य रूप से मस्ती करते रहे । घर वापसी के वक्त शाम हो गई थी । रायपुर शहर से बाहर एक वीरान इलाके में चारों लड़कों की नियत बदल गई और उन्होंने बारी-बारी से इस महिला को अपनी हवस का शिकार बनाया। पीड़िता ने अपनी इज्जत बचाने की जमकर गुहार लगाई, लेकिन किसी ने उसकी एक नही सुनी। जैसे-तैसे यह पीड़ित महिला उन लड़कों के चंगुल से छूटी और सीधे थाने पहुंची । थाने पहुंचकर पीड़ित महिला ने पुलिस को अपनी आपबीती बताई ।

पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 के तहत केस दर्ज कर लिया। पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल भेजा गया । इसके बाद पुलिस की एक टीम इस मामले की जांच में जुट गई। कुछ ही देर में पुलिस ने चारों आरोपियों को धर दबोचा. पुलिस फिलहाल आरोपियों से पूछताछ कर रही है।