दिल्ली। जमैका टेस्ट मैच के चौथे दिन तक हर कोई भारत की जीत की भविष्यवाणी कर रहा था। खुद टीम इंडिया ने भी अपने प्रदर्शन को देखते हुए जश्न की तैयारी की होगी। लेकिन मैच के 5वें दिन रोस्टन चेज ने शतक ने जड़ जोरदार वापसी करते हुए मैच ड्रॉ कराने में सफलता हासिल कर ली। दूसरी पारी में मैच ड्रॉ बोने तक  वेस्‍टइंडीज का स्‍कोर 388/6 था और चेज (137) व कप्तान जेसन होल्‍डर (64) क्रीज पर मौजूद  थे।अंतिम दिन वेस्टइंडीज के बल्लेबाजों ने भारतीय गेंदबाजों की खूब धुनाई की और विकेट के लिए तरसा दिया। 5वें दिन टीम इंडिया केवल दो विकेट ही मिले। भारतीय टीन ने पहली पारी में 500 रन बनाए थे और 304 रनों की बढ़त हासिल की। भारत ने एंटीगा में पहला टेस्ट पारी और 92 रन से जीतता था और टेस्ट सीरीज में सीरीज में 1-0 से आगे चल रहा है। रोस्टन चेज ने अपने शानदार खेल से पूरी दुनिया को अपनी ओर खींचा। रोस्टन चेज ने गेंदबाजी करते हुए 5 विकेट भी हासिल किए थे और दूसरी पारी में चमत्कारी शतक से वेस्टइंडीज के लिए मैच भी बचाया। अपने इस प्रदर्शन के लिए उन्हें मेन ऑफ द मैच पुरस्कार से भी नवाजा गया।  कुछ बल्लेबाजों ने  चेज का बखूबी से साथ दिया जर्मेन ब्‍लैकवुड, शेन डाउरिच और जेसन होल्‍डर ने अर्धशतक जमाकर वेस्‍टइंडीज के लिए मैच बचाने में अहम भूमिका निभाई।