नैनीताल: डीएम दीपेंद्र चौधरी का आदेश,10 जनवरी तक बंद रहेंगे स्कूल और आंगनबाड़ी

914

हल्द्वानी: नए साल की शुरुआत के साथ ठंड ने भी पहाड़ी इलाकों में आई। साल के पहले हफ्ते ने लोगों को कंपकंपाने में मजूबर किया। जगह-जगह पर आग का सहारा लोग लेते नजर आ रहे है। नैनीताल जिले के मैदानी इलाकों में कोहरे ने भी लोगों को परेशान किया। लगातार बढ़ रही ठंड को देखते हुए डीएम दीपेंद्र चौधरी ने जिले के सभी स्कूलों और आंगनबाडियों को 10 जनवरी तक बंद करने के आदेश दिए है। उन्होंने साफ किया कि इस बीच अगर कोई स्कूल या आंगनबाड़ी खुली पाई जाती है तो सख्त एक्शन लिया जाएगा। इन दिनों कड़ाके की सर्दी पड़ रही है। लोगों को घरों से बाहर निकलने में बेहद परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में बच्चों को सुबह तैयार कर स्कूल भेजने में अभिभावक काफी डर रहे हैं। इस मौसम में बच्चों की तबीयत खराब होने के ज्यादा आसार रहते हैं।

हल्द्वानी में कोहरे के साथ ठंड हवा ने लोगों की परेशानी को बढ़ा दिया है। लोग घर से बाहर निकलने में परहेज कर रहे है। बीच-बीच में निकल रही धूम लोगों को ज्यादा वक्त तक राहत नहीं दे रही है। वहीं पहाड़ी इलाकों में धूम तो खिल रही है लेकिन ठंड हवा वहां भी लोगों को परेशान किया हुआ है। लोग आस लगाए हुए है कि बारिश पड़ने के बाद शायद ठंड हवा अपना प्रकोप कम करें।

पिछले दिनों में उत्तराखंड में मौसम शुष्क बना हुआ है। अनेक स्थानों पर दोपहर के समय तेज धूप निकल रही है, लेकिन शाम के समय उथला कोहरा और कुहासा छाने से वाहन चालकों समेत आम जनता को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।  कोहरे का आलम यह है  कि सड़क पर विजिबिल्टी काफी कम रही, जिससे वाहन चालकों को खासी परेशानी उठानी पड़ी है। हल्द्वानी में देर शाम से ही कोहरा छा गया था जिसकी वजह से ठिठुरन बढ़ गयी है और लोग घरों में कैद होने को मजबूर हो गए है।