हल्द्वानी:नए साल के जश्न की तैयारी शुरू हो गई है। देश भर के लोगों ने नैनीताल की ओर रुख करना शुरू कर दिया है। सरोवर नगरी में नए साल का जश्न अलग ही अंदाज में मनाया जाता है और ये पूरे विश्वभर में विख्यात है।  पिछले साल सरोवर नगरी में 1 लाख के करीब सैलानी नया साल बनाने पहुंचे थे। नए साल के जश्न को देखते हुए पुलिस प्रशासन ने ट्रैफिक को शहर से दूर रखने की पूरी तैयारी कर ली है। वीकेंड को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि नए साल के जश्न के लिए करीबन 10 हजार वाहन शहर में पहुंचेंगे। इसे देखते हुए प्रशासन ने पार्किंग के लिए जगह चिह्नित की है।

बता दे कि नैनीताल में 2500 वाहनों के खडे़ करने की जगह है। अगर संख्या इसके ऊपर पहुंची तो सैलानियों को अपने वाहन रानीबाग, भवाली,सरिताता और रूसी बैंड पर खड़े करने होंगे।  वहां से सभी सैलानियों को शटल टैक्सी सेवा के जरिए नैनीताल तक पहुंचाया जाएगा। पुलिस प्रशासन ने साफ किया है कि इस ट्रैफिक नियम को 25 से 31 दिसंबर तक फोलो किया जाएगा। वही नैनीताल में सड़क के किनारे किसी भी वाहन को खड़े होने नहीं दिया जाएगा। शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों के लाइसेंस तुरंत कैन्सल किए जाएंगे।

इस प्लान पर नैनीताल जिले के डीएम दीपेद्र चौधरी ने कहा कि  ट्रैफिक के कारण सैलानियों को परेशानी ना हो, इसके लिए ये फैसला लिया गया है। हम चाहते है कि नैनीताल पहुंचे वाले सभी सैलानी भी सहयोग करें ताकि नए साल का जश्न बिना किसी रुकावत के मनाया जा सके।

वही एसएसपी जन्मेजय खंडूरी ने कहा कि ट्रैफिक पर पुलिस की पैनी नजर बने रहेगी। पुलिस कर्मी हर जगह पर मौजूद रहेंगे। जाम को जश्न के आड़े नहीं आने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अगर वाहन शहर से बाहर खड़े किए जाते है जाम की परेशानी खुद ब खुद दूर रहेगी।