पहाड़ के कमलेश की दहाड, इतिहास दोहराएंगे और विश्वकप देश लेकर ही जाएंगे

1673

हल्द्वानी: अंडर-19 विश्वकप में टीम इंडिया क्वार्टर फाइनल में पहुंच गई है। टीम को 26 जनवरी के दिन बांग्लादेश के खिलाफ मैच में उतरना हैं। भारतीय टीम ने तीनों ही लीग मुकाबलों में शानदार जीत दर्ज की थी। इस जीत से टीम का आत्मविश्वास भी सातवें आसमान में है। टीम अपनी लय को बरकरार रखने के लिए नेट्स में खूब पसीना बहा रही है। भारतीय टीम ने अभी तक खेल के तीनों ही क्षेत्र में शानदार खेल दिखाया है। बल्लेबाजी हो या गेंदबाजी या फिर फिल्डिंग तीनों विभाग में टीम विरोधियों पर भारी पड़ी है।

Image result for kamlesh nagarkoti 3 match wickets

विश्वकप में भारतीय टीम की सबसे बड़ी खोज कहे जा रहे कमलेश नगरकोटी को पूरा भरोसा है कि टीम इस बार फिर से विश्वकप का खिताब इंडिया वापस लाएगी। इससे पहले साल 2012 में भारतीय टीम ने अंडर-19 विश्वकप जीता था। अपने शानदार प्रदर्शन के बाद पहली बार कैमरे पर आए उत्तराखण्ड बागेश्वर के रहने वाले कमलेश ने कहा कि टीम एक दूसरे पर पूरा तरीके से विश्वास करती है। हम अच्छी लय में हैं और यही कायम रखने की कोशिश कर रहे हैं। तेज गेंदबाजी के सवाल पर उन्होंने कहा कि मेरा पहला ध्यान रहता हैं कि मैं बॉल को सही लाइन और लेंथ में डालू। गति तो रिदम पकड़ने के बाद खुद आ जाती है। उन्होंने बताया कि  गेंदबाजी में उनके आर्दश वकार युनुस, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी है। बता दें कि कमलेश नगरकोटी ने अपनी रफ्तार से पूरे क्रिकेट जगत में सनसनी फैला दी है। क्रिकेट जगत से जुड़े क्रिकेटरों ने नगरकोटी को भारतीय क्रिकेट के लिए एसिड करार दे दिया है। कमलेश नगरकोटी ने अभी तक टीम का भरोसा जीतने में कामयाब हुए है। उन्होंने तीन मैचों में कुल चार विकेट लिए है। खास बत ये रही कि कमलेश ने लगातार 145 किलोमीटर घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी की। उनकी गेंदबाजी ने उन्हें आईपीएल के लिए भी वायरल कर दिया है।  उनके साथ इस वीडियो में मनजोत कालरा भी मौजूद है। इस वीडियो को आईसीसी के अधिकारिक पेज पर पोस्ट किया गया है।

वीडियो नीचे अगली स्लाइड पर