काशीपुर। बच्चा होना ना होना भगवान के हाथ में या फिर बायोलॉजिकल प्रोबल्म के चलते ये परेशानी हो सकती है। इसमें उसका क्या दोष जो अपना परिवार छोड़ एक अनजान का घर अपना समझ के आई है। जी हां कहने को हम सभी अपने आप को विकसित देश का प्राणी कहते है लेकिन हमारे समाज का एक अंग की सोच कौणियों भर रह गया है। महिलाओं पर इत्याचार की घटनाए कम होने का नाम ही नही ले रही है। काशीपुर में एक महिला पर संतान ना होने के पर पति ने पत्नि को तेजाब डालकर जला दिया। सूचना मिलते ही पुलिस ने घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी हालात गंभीर बनी हुई है।

खबर के मुताबिक काशीपुर पंजाबी सराय निवासी मीनाक्षी की शादी अमरोहा के अनिल ठाकुर से हुई थी। दोनो की शादी को लगभग 7 साल हो गए है। अनिल ठाकुर संतान ना होने पर मीनाक्षी को मारा करता था। इससे परेशैन होकर महिला अपने मायके आ गई। उसके बाद पति की नौकरी काशीपुर स्थित एक फैक्ट्री में लग गई।  बुधवार को जब मीनाक्षी काम से घर लौट रही थी तो मेन चौराहे पर पति अनिल से पीछे से आकर उसपर तेजाब डाल दिया। महिला को बचाने के लिए आगे आए दो युवकों पर भी अनिल ने तेजाब से हमला कर दिया। उसके बाद भीड़ को देखते हुए आरोपी वहां से फरार हो गया। तेजाब से महिला की पीठ और हाथ जल गए साथ ही दोनों युवक भी मामूली रूप से झुलस गए। मामले की गंभीरता को देखते हुए सीओं जीसी टम्टा ने अस्पताल पहुंचकर महिला का बयान लिया। महिला ने इस बात पुष्टि कर बताया उसके ऊपर तेजाब डालने वाला आदमी उसका पति अनिल ठाकुर था।