बिजली के बिल का बोझ हुआ कम, उत्तराखण्ड में सस्ती हुई बिजली

445

देहरादून: बिजली का बिल लोगों को हर वक्त डराता रहता है। पिछले सत्र में बिजली के दाम भी बढ़ गए थे जिसने लोगों को परेशान किया था। लेकिन अब बिजली का बिल लोगों को राहत देगा। ऐसा इसलिए कि प्रदेश में बिजली के रेट में कटौती की गई है। नए रेट के अनुसार अब बिजली का बिल 7 पैसे प्रति यूनिट कम हुआ है। फ्यूल सरचार्ज में कमी आने की वजह से उत्तराखंड पावर कारपोरेशन लिमिटेड (यूपीसीएल) अगले तीन माह के लिए बिजली की दरों में सात पैसे प्रति यूनिट कम करने का फैसला किया है। मौजूदा वक्त में बिजली की दर औसत घरेलू – 3.89 रुपये प्रति यूनिट,व्यावसायिक – 5.69 रुपये प्रति यूनिट और एचटी इंडस्ट्री – 5.41 रुपये प्रति यूनिट है।

विद्युत उपभोक्ताओं को जनवरी से मार्च महीने का बिल नए टैरिफ मतलब की नए रेट के अनुसार ही प्राप्त होगा। बता दें कि फ्यूल सरचार्ज के हिसाब से हर तीन महीने के बाद विद्युत दर की समीक्षा की जाती है। यूपीसीएल बिजली की मांग और आपूर्ति के बीच के अंतर को पाटने के लिए थर्मल पावर प्रोजेक्ट्स से बिजली की खरीद करती है।कोयले की कीमतों के हिसाब टैरिफ पर फ्यूल सरचार्ज का बोझ डाला जाता है। पिछली तीन माह के दौरान यूपीसीएल ने थर्मल पावर प्रोजेक्ट्स से जो बिजली की खरीद की थी उस पर कोयले की कीमतें कुछ कम थीं, इस वजह से फ्यूल सरचार्ज में कटौती की गई है।

बिजली की दर कम होने पर विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वर्तमान में कोयले की कीमतों में जो तेजी आई है उसका असर अगली तिमाही में दिख सकता है। मतलब साफ है कि बिजली के रेट बढ़ने के आसार है। यूपीसीएल के प्रबंध निदेशक बीसीके मिश्रा के मुताबिक फ्यूल सरचार्ज में कमी आने की वजह से बिजली की दरों में तीन माह के लिए सात पैसे प्रति यूनिट की कटौती कर दी गई है। उपभोक्ताओं को जनवरी से मार्च महीने का बिल नए टैरिफ के आधार पर मिलेगा।