भागलपुर : शॉट सर्किट से लगी आग में 27 घर जल कर खाक

69

नई दिल्ली : एक पुरानी कहावत है एक चिंगारी बहुत है बस्तियां जलाने के लिए । बिहार के भागलपुर जिले के एक गांव में यह कहावत चरितार्थ होती है । यहां बच्चों की छोटी सी गलती का खामयाजा पूरी बस्ती को चुकाना पड़ा ।

यहां बिहार के भागलपुर जिले के नारायणपुर प्रखंड के कटावग्रस्त बैकठपुर दुधैला पंचायत में गुरुवार को बैट्री के शॉट सर्किट से लगी आग में एक-एक कर  कुल 27 घर जल गए। जिन लोगों के घर जले हैं वे गंगा के कटाव में पहले ही अपना घर गंवा चुके थे। नया घर भी आग के हवाले हो गया है । आग में पांच लाख रुपये की संपत्ति खाक होने की बात अग्निपीडि़तों द्वारा बताई जा रही है। लाले मंडल की पत्नी जयंति देवी ने बताया कि घर में दोपहर करीब दो बजे बच्चों ने सोलर बैट्री में उल्टा चिमटा लगा मोबाइल चार्ज करने के लिए लगा दिया था। शॉट सर्किट से तार के साथ फूस की झोपड़ी में आग लग गई, जिस पर काबू पाते-पाते 27 घर जल गए। आग की लपटें दिनेश मंडल की दुकान तक जा पहुंची, जहां उसके दोनों बेटे प्रियांशु और दिव्यांशु सो रहे थे। हो-हल्ला होने पर दोनों की आंखें खुली। दोनों ने वहां से किसी तरह भागकर अपनी जान बचाई।

आग की लपटें पछिया हवा के कारण तेज होती चली गई, जिसकी चपेट में एक के बाद एक कुल 27 घर आ गए। खेतों में सिंचाई के लिए लगे बोरिंग के पाइप से पानी डालकर लोगों ने किसी तरह आग पर काबू पाया । आग को काबू करने में एक घंटे का वक्त लग गया। लाले मंडल की बकरी जल गई और एक बछड़ा झुलस गया। दो मासूम इस आग में जलने से बाल-बाल बच गए। कटाव के दंश से यह परिवार अभी तक उबरा भी नहीं था कि अबकी आग ने कहर बरपा दिया।