नई दिल्ली: भारत और पाकिस्तान के रिश्ते पिछले कुछ वक्त से अच्छे नहीं रहे है। भारत पाकिस्तान पर आंतकियों को पनाह देने और उन्हें भारत के खिलाफ इस्तेमाल करने का आरोप विश्व के सामने लगाता रहा है। इस विषय पर पाकिस्तान को अमेरिका समेत कई जैसो की फटकार का भी सामना करना पड़ा है। लगातार मिल रही फटकार से पाकिस्तान के तेवर बदले है। जो देश पहले भारत पर हमले की बात करता था वो अब रिश्ते सुधारने की बात कर रहा है।

पाकिस्तानी आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने देश के सांसदों से भारत के साथ रिश्ते सुधारने को कहा है। बाजवा ने इस कदम में पाकिस्तानी सेना के समर्थन का भी आश्वासन दिया है। ऐसा माना जा रहा है कि बाजवा ने का यह बयान अमेरिका की तरफ से लगातार बढ़ते दबाव की वजह से आया है।

उन्होंने पाकिस्तान के सांसदों को आश्वासन दिया है कि पाकिस्तानी सेना उनके प्रयासों का समर्थन करेगी। मीडिया को मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार को पाकिस्तान की सीनेट कमेटी की बैठक हुई थी। आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने वक्तव्य में कहा कि सेना भारत के साथ संबंध सामान्य करने के तहत उठाए गए राजनीतिक कदमों का समर्थन करती है।जनरल बाजवा को सीनेट के अध्यक्ष रजा रब्बानी ने आमंत्रित किया था। उनके साथ आईएसआई के प्रमुख नवीद मुख्तार भी थे। पाकिस्तानी अखबार डॉन के मुताबिक बाजवा ने सांसदों से कहा कि वे सभी पड़ोसी देशों से सामान्य संबंध चाहते हैं।पाकिस्तानी सेना की बात करे तो उसका रवैया आम तौर पर भारत के खिलाफ माना जाता है।  यही वजह है कि उसके मौजूदा प्रमुख के इस बयान को महत्वपूर्ण माना जा रहा है।