नई दिल्ली। रियो ओलंपिक में जिन भारतीय खिलाड़ियों से उम्मीदे है उनमें सबसे पहला नाम टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा का है। लेकिन सानिया मिर्जा को अपने पहले ही मैच में ही  निराशा हाथ लगी। विश्व की नंबर एक युगल खिलाड़ी सानिया मिर्जा और  जोड़ीदार प्रार्थना थोम्बारे को ओलंपिक टेनिस टूर्नामेंट के महिला युगल के पहले दौर में चीन की शुहाई च्यांग और शुहाई पेंग जोड़ी के हाथों हार सामना करना पड़ा।

सानिया और प्रार्थना ने चीनी की जोड़ी को चुनौती तो पेश की उनसे पार पाने में नाकाम रहे।दो घंटे 44 मिनट तक चले मैच में सानिया मिर्जा और प्रार्थना थोम्बारे को  6-7, 7-5, 5-7 से हार का सामना करना पड़ा।  टेनिस में भारतीय चुनौती अब मिश्रित युगल पर टिकी हैं, जिसमें सानिया के जोड़ीदार रोहना बोपन्ना होंगे।