लखनऊ : सीएम योगी के आवास के पास युवक ने किया आत्मदाह का प्रयास

लखनऊ : यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने किसानों का कर्ज माफ करने को बजट में बड़ी धनराशि का प्रावधान किया हो लेकिन अभी भी कई किसान कर्ज के बोज तले दबे हुए हैं । राज्य में कई किसान इसी कारण आत्महत्या कर चुके हैं । लखनऊ में आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आवास के पास कर्ज में डूबा युवक आत्मदाह की धमकी देकर पेड़ पर चढ़ गया।

ललितपुर निवासी किसान युवक का नाम राम राज है। उसके ऊपर डेढ़ लाख रुपया का कर्ज है। लगातार बैंक तथा तहसील कर्मियों की धमकी के कारण राम राज बेहद परेशान है। इसी से ऊबने के बाद आज यह लखनऊ में मुख्यमंत्री के आवास के पास पहुंच गया। उसने अपने गले में मफलर का फंदा भी बना लिया। वह पेड़ से ही आत्महत्या की धमकी देने के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार लगा रहा था। किसान राम राज ने कहा कि उस पर पिछले पांच साल से डेढ़ लाख का कर्ज है। वह इसे चुका नहीं पा रहा है। कई बार सरकार से गुहार लगाई लेकिन अब तक कोई कर्जमाफी नहीं हुई। युवक ने इस दौरान खुद को फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी करने की धमकी दी। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस उसे काफी समय तक मनाती रही। इसके बाद उसके बेटे को सामने लाया गया।

 

 

राम राज ललितपुर का किसान है। वह अपने बेटे के साथ लखनऊ आया था। उस पर डेढ़ लाख रुपए का कर्ज है, जिसे माफ कराने के लिए वह कई जगह गुहार लगा चुका था। कर्ज नहीं देने की स्थिति और अब तक कोई सरकारी मदद नहीं मिल पाने के कारण उसने खुदकुशी की धमकी का रास्ता अख्तियार किया। मुख्यमंत्री आवास के पास वह पेड़ पर चढ़ गया और गले में फांसी का फंदा डालकर धमकी देने लगा। इस दौरान पुलिस ने उसे काफी मनाने की कोशिश की। मौके पर राम राज के बेटे ने भी पिता से गुहार लगाई कि पापा उतर आओ नीचे। इसके बाद काफी मान मनौव्वल हुई तब राम राज आखिरकार नीचे उतरा। पुलिस राम राज और उसके बेटे को अपने साथ ले गई। इस दौरान राम राज ने कहा कि उस पर पांच वर्ष से डेढ़ लाख का कर्ज है। वह इसे चुका नहीं पा रहा है। सरकार से गुहार लगाई लेकिन अब तक कोई कर्जमाफी नहीं हुई है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now