लालकुआं।  मंडल रेल प्रबन्धक निखिल पाण्डे कार द्वारा  रेलवे स्टेशन पर पहॅचे। यहां आते ही उन्होंने सबसे पहले गेटवे ऑफ़ कुमाऊ लालकुआं रेलवे स्टेशन के मुख्य द्वार को और बड़ा व भव्य बनाने के लिए अधिकारियों से विचार-विमर्श किया तथा नये प्रवेश द्वार स्थल का बारिकी से निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने पिट लाईन का जायजा लेकर प्रगति रिपोर्ट मांगी। तमाम कार्यालयों व रेलभूमि का निरीक्षण करते हुए वह 100 साल पुराने रेलवे क्लब में गये तो उसकी जीर्ण-क्षीर्ण हालत देखकर अधिकारियों से उसके पुनः निमार्ण व्यापक चर्चा की । मण्डल रेल प्रबन्धक रेलवे क्लब को समाप्त कर वहां कार्यालय खोलने के पक्ष में है। जिसके लिए उन्होंने रेलवे क्लब की नपाई भी करायी। इसके बाद वह निर्माणाधीन वेटिंग रूम व टीटी डाईवर रूम में पहुॅचे और काफी देर तक उसका निरीक्षण कर अधिकारियोें से इस सम्बन्ध में व्यापक चर्चा करते रहे। पत्रकारों ने जब उनसे निरीक्षण के सम्बन्ध में पूछा तो उनका जबाब था कि वे इस मण्डल में नये आये है और उनका यहां दूसरा निरीक्षण है अभी वह लालकुआं स्टेशन को समझने आये है तथा उनके पास पत्रकारों को बताने के लिए कुछ नहीं है। परन्तु लालकुआं स्टेशन आने वाले समय में उत्तराखण्ड का सबसे सुन्दर स्टेशन गिना जायेगा। इस अवसर पर उनके साथ वरिश्ठ मण्डल वाणिज्य प्रबन्धक आरसी श्रीवास्तव, वरिश्ठ मण्डल इंजीनियर समन्वय वीके गुप्ता, वरिश्ठ मण्डल इंजीनियर प्रथम अरूण कुमार, वरिश्ठ मण्डल संरक्षा अधिकारी सीएल शाह, वरिश्ठ यांत्रिक इंजीनियर मो.जावेद, उप मुख्य अभियंता राजीव अग्रवाल, आरपीएफ के कमाण्डैन्ट एसकेएस राठौर, मण्डल दूरसंचार एवं सिग्नल इंजीनियर रितेश गुप्ता सहित कई अधिकारी मौजूद थे।