हल्द्वानी: शहर में निकाय चुनावों की तैयारियां शुरू हो गई है। पार्षद पद के लिए प्रत्याशियों के नाम सामने आने लगे हैं। अब बात करते पूर्व में हुए कामों की मतलब पिछले चुनावी वादों की। वार्ड नंबर 21 (वनबूलपूरा) में कूड़ा लोगों की सबसे बड़ी परेशानी है। उनके अनुसार वार्ड में लोग कही भी कूड़ा फेंक देते हैं। खाली खेते में खूड़ा जमा रहता है और फिर बीमारी बढ़ने का खतरा भी बड़ा रहता है।

मौजूदा पार्षद मोहम्मद गुफरान कहते है कि लोगों की समस्या को दूर करने के प्रयास किए गए हैं। विधायक निधि से वार्ड की तस्वीर बलदने की कोशिश की गई है। वहीं मेयर जोगिंदर रौतेला को अटके हुए कामों के बारे में बताया गया लेकिन नगर निगम की ओर से कोई एक्शन नहीं लिया गया है। अब चुनाव आ रहे है तो वो लोगों की परेशानी को सुन रहा है।

Image result for वार्ड नंबर 21 हल्द्वानी

स्थानीय लोगों के अनुसार सबसे पहले वार्ड को गंदगी से मुक्त करना चाहते है। वार्ड में सीवर लाइन की मांग लंबे समय से की जा रही है लेकिन हमारा इंतजार बढ़ते जा रहा है। वहीं कूड़े खुले में फेकने के लिए भी लोग मजबूर है क्योकि नगरनिगम की गाड़ी घर पर खूड़ा लेने नहीं आती है। वार्ड को डोर-टू डोर गार्बेज कलेक्शन की जरूरत हैं। नगर निगम अपनी नाकामियों को हमारे सिर पर डालता रहा है। काम वो नहीं करता है और छवि हमारे वार्ड की खराब होती है। इसके अलावा वार्ड में पुस्तकालय की मांग भी लंबे वक्त से की जा रही है लेकिन उसकी निर्माण की ओर नगर निगम द्वारा कोई कदम नहीं उठाया गया।

Related image

वार्ड 21 में भाजपा की राय मुश्किल नजर आ रही है। साल 2003 और 2008 नगरपालिका चुनाव में भी उसे जीत नसीब नहीं हुई थी। साल 2012 के निकाय चुनाव में कांग्रेस के प्रत्याशी मोहम्मद गुफरान चुनाव जीतने में कामयाब रहे थे। पिछले तीन चुनावों में भाजपा की हार और नगर निगम के प्रति लोगों का नकारात्मक रवैया चुनाव से पहले भाजपा के लिए अच्छे संकेत नहीं दे रहा है।