हल्द्वानी: शहर में लगातार छात्राओं से छेड़छाड़ जैसी घटनाओं में हो रही बढ़ोतरी से शहर नकारात्मक माहौल की ओर जा रहा है। नैनीताल पुलिस ने सख्त फैसला किया है। सोमवार को विश्व अल्पसंख्यक दिवस पर पहुंचे लोगों ने एसएसपी जन्मेजय खंडूरी के सामने इस मामले को रखा। एसएसपी ने मामले को गंभीरता से लिया और तुंरत पुलिस की कार्रवाई का डंडा नकारात्मक तत्वों के लिए तैयार कर दिया। इसे एक प्रोजेक्ट के तौर पर बनाया गया है। इसके तहत हल्द्वानी के खालसा इंटर कॉलेज भोटिया पड़ाव, निर्मला कान्वेंट स्कूल काठगोदाम ,ललित कन्या इंटर कॉलेज बनभूलपुरा स्कूलों के बाहर  स्कूल के खुलने और समाप्त होने तक 2-2 आरक्षियों को नियुक्ति करने के आदेश सीओ डीसी ढौडियाल को दिये।

SSP Janmejaya Khanduri

कार्यक्रम में कोतवाली हल्द्वानी,थाना वनभूलपुरा, थाना काठगोदाम,थाना मुखानी क्षेत्रों से आए सभी समुदाय के लोगों एवं अभियोजन विभाग के प्रतिनिधि अधिकारी कर्मचारी, चिकित्सा एवं शिक्षा विभाग अधिकारी, स्कूल कॉलेज के छात्र छात्राएं ,अल्पसंख्यक वर्ग के अधिवक्ता गण, अल्पसंख्यक वर्ग के युवा नेता, रिटायर्ड पुलिस अधिकारियों ने शिरकत की। अल्पसंख्यक समुदाय की समस्याओं के निराकरण एवं कानून एवं नियम आदि विषयों पर विचार विमर्श किए गए। सभी समुदायों के प्रवक्ताओं द्वारा अपनी समस्याओं को एसएसपी के सामने रखा गया ।