हल्द्वानी:रविवार को नए साल का जश्न मनाने की तैयारियां जोरों से चल रही थी। लोग अपनी पुरानी यादों को शानदार तरीके से विदा करने जा रहे थे। इसी बीच एक घटना ऐसी हुई जिसके लिए नए साल का जश्न काल बन गया। नववर्ष का जश्न मनाने के लिए जा रहे मां और दो बेटों की स्कूटी में अज्ञात वाहन ने टक्कर होने से एक बच्चे की मौत हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि तीनों स्कूटी से छिटकर दूर सड़क पर गिर पड़े। राहगीरों की मदद से घायलों को 108 आपातकालीन वाहन द्वारा हल्द्वानी अस्पताल में भर्ती कराया है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बच्चे के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

जानकारी के मुताबिक बिंदुखत्ता के इंदिरानगर द्वितीय निवासी गोपाल सिंह रौतेला की पत्नी नीतू रौतेला अपने दो बेटे सिद्धार्थ और आदित्य के साथ स्कूटी से अपने मायके जवाहर नगर जा रही थी। मुक्तिधाम के पास एक अज्ञात वाहन ने नीतू की स्कूटी को टक्कर मार दी। इस हादसे में नीतू के बड़े बेटे आदित्य (12 साल ) की मौत हो गई। वहीं छोटे बेटे सिद्धार्थ को दिल्ली रेफर किया जा रहा है। नीतू के गोपाल सिंह रौतेला  पति भारतीय सेना में है और वर्तमान में उनकी तैनाती रुड़की में है।

आदित्य की मौत की खबर मिलते ही पूरे गांव में कोहराम मच गया है स्थानीय लोगों ने सड़क पर लपरवाही से चल रहे वाहनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। मृतक आदित्य बीएलएम स्कूल में कक्षा पांच का छात्र था। आदित्य का पिछले माह 22 नवंबर को जन्मदिन मनाया गया था। आदित्य की मौत ने नीतू को पूरी तरह से तोड़ दिया है। उसकी हालात में सुधार तो हुआ है लेकिन वो अपने बच्चें की मौत को स्वीकार ने को तैयार नहीं है। उसे क्या पता था कि नया साल उसकों जिन्दगी का सबसे बड़ा दुख देगा। परिजनों इस बात को नीतू से काफी वक्त तक छुपाए रखा था।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now