हल्द्वानी। बिन्दुखत्ता के घोड़ानाला क्षेत्र के ग्रामीणों ने सेंचरी वीआइपी गेट से लेकर तहसील तक दोपहिया वाहनो में सवार होकर मिल प्रबंधन और जिला प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और तीन दिन के भीतर अवैध पार्किंग और हाईवे पर हुए गड्ढो को भरने का अल्टीमेटम देते हुए तेहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। अवैध पार्किंग से परेशान ग्रामीणों का कहना था कि अवैध पार्किग की वजह से अब तक दर्जनों दुर्घटनाए हो चुकी है।प्रशासन से बार बार शिकायत के बाद भी नही हुयी कोई कार्यवाही नही हुई है।

लालकुआं ट्रांपोर्टनगर से लेकर सुभाषनगर के बीच हाईवे पर सेचुरी में आने वाले  वाहन आड़े तिरछे खड़े करने से लगे जाम और हाईवे पर बने विशालकाय गड्ढो से गुस्साए घोड़ानाला क्षेत्र के युवाओं ने तहसील में धरना प्रदर्शन के बाद जिलाधिकारी को ज्ञापन भेजा। इस दौरान प्रदर्शनकारियों का कहना था कि हाईवे पर सेंचुरी मिल में आने वाले भारी वाहनों द्वारा अवैध पार्किंग बनाये जाने से एक साल के भीतर आधा दर्जन से अधिक मौत हो चुकी है।जिसके लिए पिछले सप्ताह भी जिलाधिकारी को ज्ञापन भेज चुके है उसके बावजूद कोई करीब कार्यवाही नही हुई।

घोड़ानाला क्षेत्र से जुलुस की शक्ल में क्षेत्र के 100 से अधिक युवाओ ने जिला प्रशासन व् सेंचुरी मिल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कहा कि ट्रांसपोर्ट नगर से सुभाष नगर चेक पोस्ट तक बनायी गयी  है। अवैध पार्किंग में वाहन  हाईवे पर  आड़े तिरछे खड़े रहते है और हाईवे पर बड़े बड़े विशालकाय गड्ढे हो गए है जिसके चलते रोजाना सड़क दुर्घटनाए हो रही है।मिल में आने वाले भारी वाहनों के हाइवे पर आड़ा तिरछा खड़ा करने की वजह से रोजाना घंटो तक लंबा जाम लगने से दुर्घटनाए हो रही है। परन्तु सेंचुरी प्रबंधन और जिला प्रशासन आँखे बंद करके बैठा है।जबकि एक वर्ष के भीतर अवैध पार्किंग के चक्कर में आधा दर्जन से अधिक लोग अपनी जान खो चुके है ।यहाँ लगे जाम की वजह से एक व्यक्ति की तीन दिन पूर्व ही सड़क दुघटना में मोत हुयी हे ।उन्होंने कहा यदि तीन दिन के भीतर उक्त अवैध पार्किंग की बन्द नही किया गया और हाईवे में बने गड्ढो को न भरा गया तो क्षेत्रवासी सड़को पर उतरकर उग्र आंदोलन शुरू कर देंगे जिसकी समस्त जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी ।लगभग एक घण्टे तक तहसील में चले धरना पर्दशन के बाद अधिशासी अधिकारी आशा डालाकोटी को ज्ञापन सोपा गया,जिलाधिकारी को प्रेषित ज्ञापन में जल्द अवैध पार्किंग को हाईवे से न हटाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी गयी है।प्रदर्शनकारियों में हर्ष बिष्ट,चन्दन बोरा,अर्जुन बिष्ट,सूरज राठौर,रंजीत कन्याल, प्रकाश उत्तराखंडी ,खुशाल बिष्ट,प्रेमशंकर,गोपाल सिंह,नंदा बल्लभ,मोहन लाल,गणेश जोशी समेत सो से अधिक क्षेत्रवासी मौजूद थे

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now