हल्दवानी : बीजेपी ने हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री ऐलान कर दिया है, हिमाचल प्रदेश के नए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर होंगे । जयराम ठाकुर  गरीब तबके से आते हैं । चुनावों से पुर्व बीजेपी ने सीएम पद के लिए प्रेम कुमार धुमल को चुना था किन्तु वह चुनाव हार गए जिसके बाद जयराम ठाकुर के नाम पर मुहर लगी ।

हिमाचल प्रदेश की सियायत में जयराम ठाकुर एक बड़ा चेहरा बनकर उभरे हैं. प्रेम सिंह धूमल के चुनाव हार जाने के बाद जयराम ठाकुर को सीएम की रेस में काफी आगे माना जा रहा था और अंतत: उन्हीं के नाम पर मुहर लगी. दरअसल, जयराम बीजेपी के आलाकमान से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी की पहली पसंद बताए जाते हैं. जयराम ठाकुर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के आंगन में पले बढ़े हैं और एबीवीपी से उन्होंने राजनीति में कदम रखा है. वो जमीन से जुड़े और बीजेपी दिग्गज शांता कुमार के करीबी नेताओं में से एक हैं.

जयराम ठाकुर का जन्म 6 जनवरी 1965 को मंडी जिले के टांडी में हुआ. जयराम ठाकुर के पिता का नाम जेठूराम ठाकुर और पत्नी का नाम डॉ. साधना ठाकुर है. जयराम एक गरीब परिवार से आते हैं. वो 5वीं बार विधायक चुने गए हैं. उन्होंने मंडी के सिराज विधानसभा से जीत दर्ज की है ।

जयराम ठाकुर आरएसएस के आंगन में पले बढ़े हैं. उन्होंने अपना सियासी सफर छात्र राजनीति से शुरू किया. ठाकुर ने 1998 में अपना पहला विधानसभा चुनाव जीता था. इसके बाद उन्होंने मुड़कर नहीं देखा एक के बाद एक लगातार पांचवीं बार जीत दर्ज की है. ठाकुर हिमाचल सरकार में कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं. धूमल सरकार में ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज विभाग का कार्यभार भी वो संभाल चुके हैं.

जयराम की सबसे बडी सियासी ताकत उनका समाज है. वो हिमाचल की सियासत में किंग माने जाने वाले क्षत्रिय समाज से आते हैं. राज्य की सियासत में राजपूतों का वर्चस्व रहा है. जयराम अपने समाज पर मजबूत पकड़ रखते हैं. जयराम संगठन और पार्टी के मजबूत नेता माने जाते हैं. हिमाचल प्रदेश बीजेपी की कमान भी वो संभाल चुके हैं ।