साल के बदलने के साथ ही उत्तराखंड में बदला मौसम,बर्फबारी से खुश हुए सैलानी

बदरीनाथ: बदरीनाथ के आस पास के क्षेत्रों के साथ ही द्वितीय केदार मद्महेश्वर, तृतीय केदार तुंगनाथ के साथ जिले के ऊंचाई वाले क्षेत्रों में इस वर्ष की पहली बर्फबारी हुई। जबकि रुद्रप्रयाग, तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि, गुप्तकाशी, ऊखीमठ, मयाली, जखोली में कोहरा होने से शीतलहर का प्रकोप चरम पर रहा। इस दौरान क्षेत्रों में कई बार बूंदाबांदी भी हुई। रविवार सुबह झमाझम बारिश और चल रही शीतलहर से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया। बारिश के कारण अचानक ठंड बढ़ गई। कड़ाके की ठंड के कारण लोग सुबह से ही घरों में दुबके रहे, बाजारों में भी सन्नाटा पसरा रहा। वहीं, विभाग ने मंगलवार को पांच जिलों उत्तरकाशी, रुद्रप्रयाग, पिथौरागढ़, चंपावत, बागेश्वर में हिमपात की चेतावनी जारी की है। इसके साथ ही मैदानी इलाकों में भी ठंड बढ़ेगी।

यह भी पढ़े:इंदिरा हृदयेश को उम्र के हिसाब से मार्गदर्शन मंडल में चले जाना चाहिए:मदन कौशिक

यह भी पढ़े:उत्तराखंड में चौकी इंचार्ज को मिली लापरवाही की सजा,SSP ने किया सस्पेंड

राज्य मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार उत्तराखंड में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो रहा है। इसका असर दिखने भी लगा है। मैदानी और कम ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश होगी और ओले भी गिर सकते हैं। पर्यटन स्थल रूपकुंड, वेदनी, आली, बगुवावासा, ब्रह्मताल में रूक-रूक कर बर्फबारी हो रही है, जिस कारण ब्रह्मताल में पर्यटक पहुंचे हुए हैं। पर्यटकों के साथ भीकलताल पहुंचे गाइड भुवन बिष्ट ने बताया कि शनिवार को लगभग 150 पर्यटक ब्रह्मताल पहुंचे थे और अवीन व कुनाड़ी में टेंट में रह रहे हैं। यहां रुक रुककर बर्फबारी हो रही है, जिसका पर्यटक खूब लुत्फ उठा रहे हैं। वहीं भीकलताल के पास खुपटीताल में 100 से अधिक पर्यटक पहुंचे हुए हैं। वांण व दीदना से भी वेदनी व आली बुग्याल में भी पर्यटकों का दल गया है। 

यह भी पढ़े:फिल्म जगत को भाया उत्तराखंड,शूटिंग के लिए देहरादून पहुंची एक्ट्रेस भूमि पेडनेकर

यह भी पढ़े:बागेश्वर के दीपक परिहार बनेंगे वायुसेना में पायलट, पिता बोले, मेरे बेटे का सपना साकार हुआ

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now