प्रशासन के खिलाफ खड़े हुए भवाली के व्यापारी, अर्धनग्न होकर किया विरोध प्रदर्शन

360

भवाली: नीरज जोशी: उच्च न्यायलय के आदेश के बाद जिस तरह भवाली मुख्य चौराहे से अतिक्रमण हटाया गया हैं वह फड़ व्यापारियो के लिए एक बुरे सपने से कम नही है। इस बात को लेकर प्रशासन के खिलाफ व्यापारियों ने नाराजगी व्यक्त की,व्यापारियो की मानें तो अब उन्हें घर चलाने को लेकर चिंता पैदा हो रही है।

इसी क्रम में शनिवार को बेरोजगार व्यापारियों ने अर्धनग्न होकर नगर पालिका कार्यालय में प्रदर्शन किया। व्यापार मंडल अध्यक्ष नरेश पांडे की अध्यक्षता में सभी व्यापारी नगर पालिका कार्यालय पहुचे जहाँ उन्होंने अर्धनग्न होकर पालिका से बेरोजगार हुए व्यापारियों के समर्थन में दुकानों की मांग की। व्यापार मंडल अध्यक्ष नरेश पांडे ने नगर पालिका अधिशासी अधिकारी को बताया कि फड़ व्यवसायी उच्च न्यायालय के फैसले का आदर करते हैं, परंतु जिस तरह प्रशासन ने गरीब दुकानदारों से उनकी रोजी रोटी छीन ली उससे साबित होता है कि हमारी सरकार उत्तराखंड की जनता के लिए क्या कुछ कर सकती है।  पालिका को फड़ व्यापारियो के हित के लिए जल्द दुकाने बनाकर आवंटित करनी चाहिए, जिससे ग़रीब फड़ व्यवसायी अपने परिवार का भरण पोषण कर सके।

उन्होंने कहा कि 60 साल से लोग फड़ो में व्यापार कर पाना परिवार चला रहे हैं और नगर पालिका दुकानदारों से 40 वर्षो तहबाजारी वसूल कर रही है जिसकी रसीदे भी व्यापारियो के पास है। आज जब फड़ हट गए है तो नगर पालिका ने दुकाने आवंटित करनी चाहिए। नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी का कहना था कि मुझे व्यापार मंडल द्वारा ज्ञापन मिला है जिसमे फड़ व्यापारियो के लिए दुकानों की मांग की गई है। उन्होंने बताया कि उच्च न्यायालय के फैसले के बाद ही फड़ व्यापारियो को हटाया गया है,फिर भी प्रशासन से इनकी वैकल्पिक व्यवस्था के लिए बात की जाएगी। जिससे इनके परिवार का गुजर बसर हो सके।