हल्द्वानी: आंधी के प्रकोप से पूरा भारत जूझ रहा है। रविवार को उत्तराखण्ड समेत उत्तर भारत में आंधी तूफान और बारिश देखने को मिली। नैनीताल जिले में बारिश के साथ ओले भी बरसे जिससे फसल को खासा नुकसान हुआ है। विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि सोमवार को भी गढ़वाल मंडल में ओलावृष्टि के आसार हैं, जबकि कुमाऊं में आंधी आ सकती है। इस दौरान हवा की रफ्तार 80 किलोमीटर प्रतिघंटा तक हो सकती है।

Image result for तूफान और हादसा

मीडिया में आ रही खबर के मुताबिक पूरे देश में तूफान और बिजली गिरने के हादसों से 30 से अधिक मौत हो गई है। वहीं 50 से अधिक लोगों के घायल होने की सूचना आ रही है।आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, और पश्चिम बंगाल में आसमानी बिजली गिरने से अब तक 18 की मौत हुई है।वहीं दिल्ली एनसीआर में भी 2 की मौत की खबर है।

यह भी पढ़ें:करीब चार दशकों से अभिभावकों के भरोसे पर खरा उतर रहा है हल्द्वानी का ABM स्कूल

Related image
file photo

वहीं उत्तराखण्ड नेपाल से सटी उत्तराखंड सीमा में दर्दनाक हादसे की खबर सामने आ रही है। बस के खाई में गिरने से 5 लोगों की मौत हो गई है। वहीं 20 यात्री घायल बताए जा रहे है। खबर के मुताबिक महेंद्रनगर से प्यूठान जा रही यात्रियों की बस वड्डा के पास असंतुलित होकर खाई में जा गिरी। इस दुर्घटना में पांच लोगों की मौत हो गई, जिनमें से चार ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था।

यह भी पढ़ें:हल्द्वानी प्रकाश डेंटल टिप्स- रूट कैनाल उपचार से दूर होगा दांतों का अहसाय दर्द

राहगीरों की सूचन के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को कोहलपुर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिला पुलिस अधीक्षक राजेंद्र प्रसाद पोखरेल ने बताया कि मृतकों की पहचान गोमुख के हीरा टम्टा, हरि मल, प्यूठान की सविता शर्मा, कंचनपुर जिले के कृष्णपुर नगर पालिका वार्ड नंबर दो की सरिता चंद और कैलाली जिले के वार्ड नंबर एक के वीरू चौधरी के रूप में हुई है।