Uttarakhand News

उत्तराखंड: सात न्यूज पोर्टल संचालकों ने मांगी 50 लाख की रंगदारी, केस दर्ज


देहरादून: पत्रकारों को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ कहा जाता है। ऐसे में अगर खुद को पत्रकार मानने वाले लोग ही रंगदारी जैसे गलत कृत्य करते पाए जाएंगे तो हैरानी तो होगी ही। दरअसल, सात न्यूज पोर्टल संचालकों (Case against seven news portal operators) के खिलाफ इसलिए मुकदमा दर्ज हो गया है क्योंकि उन्होंने एक कॉल सेंटर पर जाकर 50 लाख रुपए की मांग की। बता दें कि कॉल सेंटर की सत्यता की जांच भी हो रही है।

देहरादून के पटेलनगर (Dehradun Uttarakhand Police case) थाना क्षेत्र के मेहूंवाला से यह मामला सामने आया है। यहां कुछ युवकों द्वारा जब कॉल सेंटर स्थापित करने की तैयारी की जा रही थी, तभी पांच युवक और दो युवतियों ने वहां पहुंचकर खुद को पत्रकार बताते हुए वीडियो बनानी शुरू कर दी। कथित पत्रकारों ने कॉल सेंटर को फर्जी बताकर 50 लाख रुपए मांगे और ना देने पर खबर प्रकाशित करने की धमकी भी दी।

इतना ही नहीं, इन लोगों ने कॉल सेंटर (Call center dehradun) में रखे कंप्यूटर आदि सामान एक तरफ कोने में रखवा दिया। कर्मचारी गिड़गिड़ाए तो नीचे आते आते सौदा पांच लाख में तय हो गया। इसी दौरान वहां से यश शर्मा नाम के युवक ने पैसे लेने जाने की बात कही और वह सीधा आईएसबीटी चौकी पहुंच गया। शिकायत के बाद पुलिस ने सातों युवक-युवतियों को हिरासत में ले लिया।

पुलिस की पूछताछ में बताया गया कि वे सब न्यूज पोर्टल चलाते हैं। इंस्पेक्टर सूर्यभूषण नेगी ने जानकारी दी और बताया कि सबके खिलाफ रंगदारी मांगने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। अमन कुमार (न्यूज बदलाव) सलमान (न्यूज ट्रू मीडिया), रंजीत सिंह (न्यूज बदलाव), परवेज अंसारी (राइजिंग पोस्ट, सोनिया बालियान (राइजिंग पोस्ट), बॉबी (इंडिया न्यूज चैनल) एवं रोहिना (खबर 24) पर आरोप लगे हैं। दूसरी तरफ, एसओजी को कॉल सेंटर (SOG Inquiry of call center) की जांच की जिम्मेदारी दी गई है।

To Top
Ad