उत्तराखंड: जनशताब्दी ट्रेन उल्टी दौड़ने के मामले में रेलवे ने तीन को किया सस्पेंड

हल्द्वानी: बुधवार को एक बड़ी रेल दुर्घटना टल गई थी। नई दिल्ली से टनकपुर जा रही पूर्णागिरी जनशताब्दी एक्सप्रेस अचानक रेल पटरियों पर उल्टी दिशा में दौड़ने लगी। इस घटना के बाद पूरे रेलवे विभाग में हड़कंप मच गया था। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक इस सफर के दौरान रेलगाड़ी में करीब 60 से 70 यात्री सवार थे। ट्रेन करीब 24 किलोमीटर तक उल्टी दिशा में दौड़ी और बड़ी मुश्किल से उसे चकरपुर पर रोका गया, जहां से यात्रियों को सुरक्षित उतार कर बसों से जरिए उनके गंतव्य तक भेज दिया गया।

सीपीआरओ पंकज सिंह के मुताबिक तत्काल मामले की जांच शुरू की गई। वहीं लोको पायलट, सहायक लोको पायलट और गार्ड को सस्पेंड किया गया है। टनकपुर रेलवे स्टेशन के अधीक्षक ने बताया कि ब्रेक फेल हो चुके थे इसलिए ट्रैक अवरुद्ध करके ही ट्रेन रोकना एकमात्र विकल्प बचा था। ट्रेन रोकने के लिए रेलवे कर्मियों ने ट्रेक पर जगह-जगह छोटे-छोटे पत्थर बिछा दिए थे और गाड़ी को रोका गया।

उत्तराखंड में एक हफ्ते में दो बड़ी घटनाएं सामने आई हैं जो रेलवे से जुड़ी है। इससे पहले शनिवार को नई दिल्ली से देहरादून आ रही शताब्दी एक्सप्रेस के एक कोच में राजाजी टाइगर रिजर्व की कांसरों रेंज के निकट आग लग गई थी। इस दौरान रेलगाड़ी का पूरा कोच जलकर खाक हो गया था, लेकिन उसमें यात्रा कर रहे 35 यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now