नई दिल्ली : विपक्ष के लगातार हमलों के बाद सरकार ने जीएसटी में बदलाव किये हैं | जीएसटी लांच के चार महीने बाद जीएसटी कौंसिल ने शुक्रवार को 80 प्रतिशत चीजों को 28 परसेंट टैक्स स्लैब से हटाकर नीचे रख दिया है |नवम्बर 15 से बाहर खाना पहले के मुक़ाबले 13 प्रतिशत सस्ता हो जाएगा | इसके अलावा बाकि के सामान जैसे शैम्पू,डिओडरंट ,चॉक्लेट,फर्नीचर आदि भी 10 फीसदी सस्ता हो जाएगा |

केवल 50 उत्पाद जो लक्ज़री की श्रेणी में आते हैं ,जैसे तंबाकू ,ड्रिंक्स,ऑटोमोबाइल इन सब को 28 प्रतिशत की श्रेणी में रखा गया है | जब 1 जुलाई को जीएसटी लागु किया गया था तब 250 से अधिक उत्पाद सबसे अधिक टैक्स की श्रेणी में थे | कई उत्पाद जो सबसे अधिक टैक्स श्रेणी में हैं उनमें सेस भी लगेगा | वित्त मंत्री अरुण जटेली ने टैक्स स्लैब में हुए बदलाव को युक्तिकरण प्रक्रिया का हिस्सा बताया | सात घंटे चली बैठक के बाद उन्होने मीडिया को बताया की इस फेरबदल के बाद 200 चीजों के दाम में कमी आएगी |

जीएसटी में हुए तजा बदलाव बदलाव के बाद राज्यों और केंद्र सरकार पर 20 ,000 करोड़ का अतरिक्त बोझ पड़ेगा |.कंसल्टिंग फर्म EY इंडिया के पार्टनर दिव्येश लप्सीवाला ने कहा की सरकार को राजस्व घाटी की भरपाई दूसरे स्रोतों से करनी पड़ेगी |

 

 

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now