उत्तराखंड के पवनदीप को नेहा कक्कड़ ने बताया भारत का पहला रॉकस्टार, CM ने भी किया ट्वीट

हल्द्वानी: देश के मशहूर सिंगिंग रियलिटी शो इंडियन आइडल में जलवा बिखेर रहे पहाड़ के पवनदीप राजन एक बार फिर सुर्खियों में हैं। इस बार भी सुर्खियों में होने का कारण पवनदीप की गायकी है..मतलब रॉक्स्टार गायकी। पवनदीप की तारीफ करते करते लोग थक नहीं रहे। और इसी बीच उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी पवनदीप की तारीफों के पुल बांध दिए हैं।

मुख्यमंत्री रावत ने ट्विटर पर पवन की तारीफ करते हुए लिखा है कि चंपावत निवासी पवनदीप राजन इंडियन आइडल के मंच पर अपना जादू बिखेर रहे हैं। साथ ही सीएम रावत ने पवनदीप राजन को शुभकामनाएं दी और कहा कि ऐसे ही अपने सुरों के बलबूते आगे बढ़ते रहो और खूब कामयाबी हासिल करो। आपको बता दें कि उत्तराखंड के सीएम से पहले पवनदीप राजन ने शो की जज नेहा कक्कड़ से भी खूब तारीफें बंटोरी थी।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के बीच उत्तराखंड में बर्ड फ्लू की एंट्री,मृत पक्षियों के सैंपलों की जांच में हुई पुष्टि

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:सरस्वती शिशु मंदिर से की पढ़ाई,अब नॉर्वे में वैज्ञानिक बने रुद्रप्रयाग के डॉक्टर अंकित बुटोला

दरअसल हाल ही में पवनदीप की एक रॉकिंग परफॉर्मेंस के बाद इंडियन आइडल की जज और मौजूदा समय में भारत की मशहूर सिंगर नेहा कक्कड़ ने उन्हें आने वाला कल और भारत का पहला रॉकस्टार बताया था। नेहा ने कहा था कि पवनदीप का यह गाना सुन कर वे मंत्रमुग्ध हो गईं और उनके रौंगटे खड़े हो गए। इसके अलावा नेहा कक्कड़ ने यहां तक कह दिया कि आने वाले समय में पवनदीप को अमेरिका जैसे देशों से भी परफॉर्मेंस के नयौते आएंगे। नेहा कक्कड़ ही नहीं बल्कि अन्य जज विशाल ददलानी और हिमेश रेशमिया भी पवन की तारीफ करते नहीं रुकते। तारीफ हो भी क्यों ना, पवन की मेहनत और उऩके गुरु समान पिता की शिक्षा की बदौलत ही यह संभव हो पा रहा है।

पवनदीप के पिता उत्तराखंड में काफी प्रसिद्ध गायक हैं। उनके पिता सुरेश राजन प्रसिद्ध कुमाऊंनी लोकगायक हैं। जानकरी के अनुसार पवनदीप महज़ ढाई साल की उम्र से गाना बजाना सीख रहे हैं। इससे पहले भी पवन एक शो में शिरकत कर चुके हैं। दरअसल हिस्सा लेना अलग बात है, पवनदीप राजन ने स्टार वॉयस ऑफ इंडिया के खिताब पर कब्ज़ा भी जमाया था।

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया में उत्तराखंड का बेटा नंबर वन,औसत के मामले में पंत ने कोहली,रूट और विलिमसन को छोड़ा पीछे

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में स्कूल काटेंगे पलायन की जड़, 188 को मिली मंजूरी,सरकार ने दिए CBSE की मान्यता के निर्देश

बहरहाल पवनदीप ना सिर्फ हिंदी गाने गाते हैं बल्कि शो में उन्हें उत्तराखंड के लोग गीत-संगीत को भी आगे बढ़ाते हुए देखा गया है। साथ ही वे अधिकतर पहाड़ी टोपी के साथ नज़र आते हैं। खुशी की बात तो यह है कि पहाड़ का यह बेटा अपनी देवभूमि को इतने बड़े मंच से हमेशा याद करता रहता है। अब तो बस उम्मीद है कि पवन शो जीत कर ट्रॉफी अपने नाम कर ले। उत्तराखंड वासियों का सपोर्ट भी पवनदीप को पूरा मिल रहा है।

आप भी पवनदीप को वोट कीजिए। वोटिंग लाइन शनिवार सुबह आठ बजे से रात 12 बजे तक खुली रहती है। इंडियन आइडल शो में वोटिंग के लिए आपको “सोनी लिव” एप को डाउनलोड करना होगा।

यह भी पढ़ें: रुद्रपुर में पिथौरागढ़ जैसा मामला, 13 साल की किशोरी ने बच्चे को दिया जन्म,अस्पताल में भर्ती

यह भी पढ़ें: पहले तोड़ा ट्रैफिक नियम फिर महिला दरोगा से भिड़े पार्षद और बेटा,उत्तराखंड पुलिस ने लिया एक्शन

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now