मकर संक्रांति:हरिद्वार स्नान के लिए पहुंचने वालों के लिए कोविड नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

देहरादून: मकर संक्रांति के मौके पर पवित्रनगरी हरिद्वार में लाखों श्रद्धालु हर साल पहुंचते हैं। इसे देखते हुए एक बार फिर उम्मीद जताई जा रही है इस बार भी लाखों की संख्या में श्रद्धालु हरिद्वार पहुंचेंगे। स्नान पर्व के लिए जिला प्रशासन की ओर से एसओपी जारी कर दी गई है। दूसरे राज्यों से आने वालों को अपने साथ कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट लानी होगी।

पांच दिन पुरानी आरटीपीसीआर जांच की निगेटिव रिपोर्ट एंट्री के लिए मान्य होगी। इसके अलावा दूसरे राज्यों से आने वालों के लिए प्रशासन ने रूट प्लान बनाया है लेकिन अगर भीड़ बढ़ती है तो रूट को डायवर्ट किया जा सकता है। इसके अलावा वाहनों की पार्किंग को लेकर भी दिशा निर्देश दिए गए हैं।

डीएम सी. रविशंकर ने कहा कि मकर संक्रांति के स्नान पर्व को लेकर एसओपी जारी कर दी। होटल, धर्मशाला, आश्रम गेस्ट हॉउस प्रबंधन को श्रद्धालुओं की थर्मल स्कैनिंग करनी होगी। इसके अलावा श्रद्धालुओें के लिए दो गज की दूरी और मास्क पहनना भी जरूरी है। बता दें कि प्रशासन सभी तैयारियां कोविड 19 के नियमों को देखते हुए कर रहा है। दूसरे राज्यों से आने वालों की बॉर्डर पर रैंडम सैंपलिंग की जाएगी।

डीएम ने कहा कि श्रद्धालुओें को बॉर्डर पर रोका नहीं जाएगा लेकिन अगर किसी के पास कोरोना वायरस की नेगेटिव रिपोर्ट नहीं होगी तो कार्रवाई की जाएगी। सामान्य परिस्थितियों में यातायात को सुचारू बनाए रखने के लिए रूट प्लान 13 जनवरी दोपहर 12 बजे से 15 जनवरी की दोपहर दो बजे तक लागू रहेगा। आवश्यक सेवाओं में दूध, तेल, गैस आदि के ट्रक एवं टैंकर पर यह प्रतिबंध लागू नहीं होगा।

यह भी पढ़ें: योगनगरी ऋषिकेश में पहली बार सुनाई दिया ट्रेन का हॉर्न, केवल एक यात्री ने किया सफर

यह भी पढ़ें: बर्ड फ्लू:हल्द्वानी पालम सिटी कॉलोनी में मिला मृत पक्षी,जांच के लिए भेजा जाएगा सैंपल

यह भी पढ़ें: केंद्र सरकार का Sea-Plan, अब पानी के ज़रिए पर्यटक पहुंचेंगे उत्तराखंड

यह भी पढ़ें: देहरादून से जयपुर और अन्य दो शहरों के लिए शुरू हुई हवाई सेवा,शेड्यूल पर डाले नजर

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now