देहरादून पुलिस ने सावधान इंडिया के ‘इंस्पेक्टर’ को क्यों किया गिरफ्तार !

हल्द्वानी: सावधान इंडिया नाम के सीरियल से पूरा भारत देश वाकिफ है। सीरियल में अपराध से जुड़ी कहानियों को दिखाया जाता है, कुछ लोग इसे सतर्कता के रूप से देखते हैं और कुछ का कहना है कि युवा पीढ़ी सीरियल को देखकर वहां से अपराध के आइडिया पाते हैं। ये बात देहरादून में सच साबित हुई है। सावधान इंडिया में काम कर चुके एक एक्टर ने पुलिस को लूट की झूठी खबर दे दी । वह कर्ज में था तो उसने बचने के लिए ये आइडिया सावधान इंडिया से लिया लेकिन सीरियल की तरह ही वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया और उसकी पोल खुल गई।

खबर के अनुसार क्लेमेंटटाउन थाने की लेन नंबर-13 निवासी आकाश शर्मा ने दोपहर में पुलिस को सूचना दी कि टर्नर रोड स्थित भारतीय स्टेट बैंक  के पास उनके साथ लूट हो गई। वह बैंक से 45 हजार निकालकर जा रहे थे। इसी दौरान एक लाल रंग की अपाचे बाइक में सवार बदमाश बैग छिनकर भाग गए। दोपहर में लूट की सूचना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आकाश ने पुलिस को बताया कि उसने बदमाशों का विरोध किया तो बाइक पर पीछे बैठे बदमाश ने किसी चीज से उनके हाथ पर वार किया। जिससे वह नीचे गिर गए। इस दौरान उसे चोटें भी आई हैं।

एसओ नरोत्तम बिष्ट के साथ सीओ अनुज कुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे। नगर पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने बताया कि  घटनास्थल का निरीक्षण किया गया तो आकाश की बातों में उन्हें डाउट हुआ। उन्हें पास में लगे सीसीटीवी चैक किए तो इस तरह का कोई मामला सामने नहीं आया। आसपास के लोगों से भी पूछताछ की गई। लेकिन किसी ने इस तरह घटना की जानकारी होने से इनकार किया। शक के गहरे पर आकाश आ गया था, पुलिस ने उसकी कार की तलाशी ली तो डिग्गी में स्टपनी के नीचे से 45 हजार रुपये मिले। आकाश की सच्चाई सामने आ गई और पुलिस से माफी मांगने लगे। एसपी चौबे ने बताया कि लूट की झूठी सूचना देने के आरोप में मुकदमा दर्ज कर आकाश शर्मा को गिरफ्तार कर लिया है।

पूछताछ में आकाश ने पुलिस को बताया कि वह मुंबई में पहले टीवी सीरियल में काम करता था। आकाश ने सावधान इंडिया की एक घटना से यह आइडिया लिया था। थायरायड होने के कारण आकाश को काम नहीं मिला तो वह परेशान रहने लगा। वह शराब का आदी हो गया और उसे कर्जा होने लगा। कर्जदारों से बचने के लिए ये झूठी कहानी बनाई।