नई दिल्ली: देश के राजधानी दिल्ली से एक शर्मनाक मामला सामने आया है, जहां एक नेत्रहीन लड़की के साथ गैंगरेप किया गया. आरोपियों ने पीड़िता के नेत्रहीन होने का फायदा उठाया. उन्होंने सोचा पीड़िता किसी भी आरोपी की पहचान नहीं कर पाएगी. जिस वजह से वे कभी पकड़े नहीं जाएंगे. पीड़ित परिजनों की शिकायत पर पुलिस में केस दर्ज किया गया. पीड़िता ने आवाज पहचानकर आरोपियों की पहचान की. पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

हल्द्वानी प्रकाश डेंटल टिप्स- रूट कैनाल उपचार से दूर होगा दांतों का अहसाय दर्द

मिली जानकारी के अनुसार, यह मामला बीते 4 अप्रैल का है जो अब खुलकर सामने आया है. पीड़िता एक अंध विधालय में पढ़ती थी जिसके बाद तीसरी कक्षा के बाद उसकी पढ़ाई छूट गई. पीड़िता के पिता की मौत हो चुकी है और उसकी मां किसी घर में साफ-सफाआ का काम कर घर चलाती है. पीड़ित परिवार मूलरूप से उत्तरप्रदेश का रहने वाला है. पीड़िता के मुताबिक, उसकी मां की गैरहाजिरी में कुछ लोगों ने उसे डरा धमकाकर एक सुनसान जगह पर उसके साथ बलात्कार किया. इस मामले की शिकायत पुलिस से की गई.

पुलिस को पीड़िता ने बयान में बताया कि छोटे पाल नामक आरोपी उसे अपने साथ ले गया था. पीड़िता बेशक उसे देख नहीं सकती लेकिन वह उसकी आवाज को अच्छी तरह पहचान गई. पीड़िता के बयानों के आधार पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. आरोपी के खिलाफ गैंगरेप की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. पुलिस इस वारदात में शामिल उसके बाकी साथियों को भी तलाश रही है. फिलहाल पुलिस ने आरोपी छोटे लाल को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. बता दें कि देश के राजधानी में रेप की वारदातों में कोई कमी नहीं आ रही है. बीते दिनों जारी हुए दिल्ली पुलिस के आंकड़ों के अनुसार, राजधानी में हर रोज 5 लोगों की रेप की खबर सामने आती है.

न्यूज सोर्स-newsxind.com

देवभूमि उत्तराखण्ड में पिछले 70 सालों से अपनी सेवा दे रहा है एक परिवार