चमोली में आई आपदा ने NTPC प्रोजेक्ट को किया बर्बाद, डैम में काम कर रहे 40 मजदूर बहे

देहरादून: सुबह 9 बजे करीब चमोली में ग्लेशियर टूटने से बड़ी तबाही मची। पूरा देश चमोली के हालात पर नजर बनाए हुए है। पहले तक जो मौत की रिपोर्ट सामने आ रही थी वो पुष्टि में बदल रही हैं। अभी तक रेस्क्यू कर रही टीमों को 10 शव बरामद हुए हैं। तपोवन में ग्लेशियर टूटने से इसका सीधा असर ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट पर पड़ा।

इस हादसे में NTPC के ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट को काफी नुकसान हुआ है। बताया जा रहा है कि प्रोजेक्ट में काम कर रहे करीब 40-50 मजदूर बह गए हैं और उन्हें खोजने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। ITBP के 100 से ज्यादा जवान राहत-बचाव कार्य के लिए मौके पर पहुंच गए हैं। वहीं तबाही से चमोली में NTPC का प्रोजेक्ट बर्बाद हो गया है।

जोशीमठ से 24 किलोमीटर पैंग गांव से ऊपर बड़ा ग्लेशियर फटा और फिर धौली नदी में अचानक बाढ़ आ गई। इससे ऋषि गंगा पावर प्रोजेक्ट को भारी नुकसान पहुंचा है। इस दौरान आने वाले झूला पुल भी चपेट में आए हैं। NTPC का निर्माणाधीन तपोवन विष्णुगाढ़ जल विद्युत परियोजना बुरी तरह से प्रभावित हुई है। प्रशासन ने अलकनंदा नदी और धौली नदी के किनारे रहने वाले लोगों को अलर्ट कर दिया है और उन्हें हटाने का काम शुरू किया गया।

उत्तराखंड हादसे के बाद यूपी सरकार भी अलर्ट मोड पर आ गई है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने बिजनौर, गढ़मुक्तेश्वर, कन्नौज, बिठुर, फ़तहगढ़, मिर्ज़ापुर, बनारस, प्रयागराज, फर्रुखाबाद के जिलाधिकारियों को अलर्ट जारी करने के निर्देश दिए गए हैं। फिलहाल गंगा में बोटिंग, नौका विहार समेत ग्रामीण ज़िलों में लोगों को गंगा किनारे जाने पर जाने पर रोक लगा दी गई है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत घटनास्थल के लिए जोशीमठ रवाना हुए। मुख्यमंत्री लगातार पूरी स्थिति पर नजर रखे हुए हैं। सरकार ने सभी संबंधित जिलों को अलर्ट कर दिया है। चमोली जिला प्रशासन, एसडीआरएफ के अधिकारी और कर्मचारी मौके पर पहुंच गये हैं। लोगों से अपील की जा रही है कि गंगा नदी के किनारे न जाएं। उन्होंने लोगों को किसी भी तरह की अपवाह पर ध्यान न देने की अपील की है।आपदा प्रबंधन विभाग के सचिव और डीएम चमोली से घटना की पूरी जानकारी ली है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now