नैनीताल के नाले में मिली नवजात बच्ची के पिता का पता चला,जीजा ने किया था गंदा काम

नैनीताल: नगर के सात नंबर क्षेत्र में सात माह पूर्व (फरवरी) नाले में मिले नवजात बच्ची के जैविक पिता का पता चल चुका है। पुलिस ने नाबालिग के नवजात बच्ची के पिता के रूप में उसी के जीजा को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार डीएनए जांच के बाद नवजात बच्ची के पिता होने की पुष्टि हुई है। जिसके बाद आरोपी युवक को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेशी के बाद जेल भेज दिया है। बता दें इसी वर्ष छह फरवरी को नगर के स्टाफ हाउस सात नंबर क्षेत्र स्थित एक नाले में कड़ाके की सर्दी में एक नवजात बच्ची को देखा गया था। स्थानीय लोगों ने पुलिस को सूचित कर नवजात को बीडी पांडे अस्पताल पहुंचाया। प्राथमिक उपचार के बाद नवजात बच्ची को हल्द्वानी रेफर कर दिया गया। पढ़ना जारी करें…

यह भी पढ़ें: बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में 28 साल बाद आया फैसला, सभी आरोपी बरी हुए

कोतवाली पुलिस ने प्रकरण में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और मामले की जांच एसआई पुष्पा बिष्ट ने शुरू कर दी। वहीं नौ फरवरी को सात नंबर क्षेत्र की नाबालिक किशोरी कोतवाली पहुंच गई। इस दौरान किशोरी ने नवजात की मां होने की बात कही। जिसके बाद कोतवाली पुलिस ने किशोरी को अस्पताल में भर्ती करवाया। वहीं पुलिस ने शक के आधार पर चार युवकों के डीएनए परीक्षण कराए। डीएनए जांच की रिपोर्ट में नाबालिक का जीजा ही उसके जैविक पिता के रूप में पुष्ट हुआ है। मंगलवार को कोतवाल अशोक कुमार ने बताया कि स्टाफ हाउस सात नंबर निवासी के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेशी के बाद उसे जेल भेज दिया है। पढ़ना जारी करें…

यह भी पढ़ें: हाथरस रेप केस ने देश को हिलाया, बेटी के लिए भारत मांगे इंसाफ

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now