चल गया डीएम सविन बंसल का प्लान, ऐपण को पहचान भी और लोगों को स्वरोजगार भी

चल गया डीएम सविन बंसल का प्लान, ऐपण कला को पहचान भी और स्वरोजगार भी

हल्द्वानी: कुमाऊं की पौराणिक ऐपण कला अब सांस्कृतिक विरासत को संजोए रखने के साथ-साथ स्वरोजगार का भी एक बड़ा माध्यम बन रही है और इस कला को संरक्षित कर स्वरोजगार से जोड़ने की पहल नैनीताल जिले की कमान संभालते ही जिला अधिकारी सविन बंसल ने की। यही वजह है कि उनके कार्यकाल में अब तक न सिर्फ ऐपण कला को उद्यमिता विकास के रूप में प्रशिक्षित किया गया है, बल्कि ऐपण कला को विकसित कर एक बेहतर बाजार भी मिलने लगा है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:चैकिंग के दौरान सीपीयू जवान ने रोकी एसपी की कार, कागज मांगे

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में लौटा क्रिकेट, 16 अक्टूबर से ट्रायल, सुरक्षा के लिए बायो बबल लागू

इसी क्रम में पिछले 1 महीने से उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम में 29 महिलाओं को ऐपण कला की विभिन्न विधाओं के बारे में प्रशिक्षित किया गया। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक विपिन कुमार ने बताया कि जिला अधिकारी सविन बंसल के निर्देश में जिले को ऐपण उत्पाद के रूप में पहचान दिलाने के उद्देश्य से लगातार उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम कराए जा रहे हैं। पिछले 1 माह के प्रशिक्षण के कार्यक्रम में ऐपण कला के महत्व और उससे आत्मनिर्भर होने के तरीकों से अवगत कराया गया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सभी सार्वजनिक वाहनों का तीन महीने का मोटर व्हीकल टैक्स माफ

यह भी पढ़ें: नैनीताल में Online फ्रॉड,पर्यटक के उड़ाए 86 हजार रुपए, ये गलती आप मत करना

जिला अधिकारी सविन बंसल की इस मुहिम का असर धीरे धीरे जिले में ऐपण कला को मिलते बाजार के रूप में देखा जा सकता है, क्योंकि प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान ही बेहतर एवं कला का प्रदर्शन कर रही। उद्यमी महिलाओं के ₹31000 के उत्पादों की बिक्री भी हो गई साथ ही उन्हें कई अन्य जगह से ऐपण कला के द्वारा सुसज्जित पेंटिंग्स के रूप में अतिरिक्त कार्य भी मिला है यही नहीं कोविड-19 के दृष्टिगत प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे महिलाओं को दो ₹2000 बतौर मानदेय के तौर पर भी वितरित किए गए हैं।

नैनीताल जिले में अपन कला को संरक्षित कर उसे स्वरोजगार वह आत्मनिर्भरता में बदलने के जिला अधिकारी के इस संकल्प को पूरा करने में महा प्रबंधक विपिन कुमार, पूर्व प्रबंधक योगेश पांडे, सुनील कुमार पंत, संजीव कुमार भटनागर मास्टर क्राफ्ट्समैन नीमा मेहरा, नीमा बिष्ट, तुलसी चंद्र, माधवी बिष्ट, कंचन सिंह, नेहा बंगारी, सुनीता जोशी, लीला नेगी, हेमा बिष्ट, दुष्यंत सिंह सहित महिला प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now