सब टीवी पर पिछले 12 सालों से दर्शकों का मनोरंजन करने वाले ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’  शो के दिन पिछले कुछ दिनों से अच्छे नहीं चल रहे हैं। अपने साथी डॉक्टर हाथी को खोने के बाद शो की टीरपी में असर पड़ने लगा है। तीस हफ्तों की रेटिंग में पहली बार देखने को मिल रहा है कि शो टॉप-5 से बाहर है। अब वो छठे स्थान पर आ गया है। वहीं हर बार की तरह इस बार भी कर्लस का फेमस नागिन-3 टॉप पर बना हुआ है। डेली सोप से अलग कहानी पर बेस्ड सीरियल लोगों को खूब पसंद आ रहा है। सीरियल में आ रहे ट्विस्ट एंड टर्न्स ने लोगों की दिलचस्पी बढ़ाई है। जिस वजह से शो इस हफ्ते भी टॉप पर कायम है।

यह भी पढ़ें: प्रकाश डेंटल हॉस्पिटल डेंटल टिप्स

तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो पिछले कई सालों से लाखों लोगों का फेवरेट शो रहा है। एक वक्त पर रह टॉप पर रहता था, लेकिन पिछले किछ वक्त में हुई अनहोनी से शो की रेटिंग पर भी असर पड़ा है। इस शो में हर एक कैरेक्टर अपने आप में अनोखा है। सीरियल का हर किरदार कमाल है और हमें हंसने पर मजबूर कर देता है। वैसे तो सीरियल का नाम सुनते ही चेहरे पर मुस्कान आ जाती है।

यह भी पढ़ें: मनोवैज्ञानिक उपचार देगा मानसिक रोग को मात: डॉक्टर नेहा शर्मा

बता दें, सीरियल में डॉक्टर हंसराज हाथी का किरदार निभाने वाले कवि कुमार आजाद दिल का दौरा पड़ने के कारण  एक माह पहले इस दुनिया को छोड़कर चले गए। उनके निधन के बाद से पूरी टीम सकते में थी और शूटिंग को भी कैंसल करना पड़ा था।

इन होम्योपैथिक दवाओं के सेवन से दूर होंगे पेट के कीड़े, साहस होम्यो वीडियो टिप्स

कवि कुमार को बचपन से ही एक्टिंग का शौक था। वह एक्टर बनने के लिए बिहार से भागकर मुंबई आ  गए थे. फुटपाथ पर कई रातें गुजारने के बावजूद एक्टर बनने का जुनून कम नहीं हुआ। कवि कुमार छोटे पर्दे पर नहीं बल्कि बड़े पर्दे पर भी काम कर चुके हैं। वह आमिर खान की फिल्म ‘मेला’ में भी नजर आये थे। इसके अलावा वह ‘फंटूश’ में भी काम कर चुके हैं. लेकिन लोकप्रियता उन्हें ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ से ही मिली। कवि कुमार आज़ाद को कवितायें लिखने का भी बहुत शौक था। टाइम मिलने पर वह कविता लिखना पसंद करते थे। बच्चों के बीच वह बहुत पॉपुलर थे।