राजभवन पहुंचा कोरोना, उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य कोविड पॉज़िटिव, प्रशासन में बढ़ी बेचैनी

कुछ दिन पहले ही राज्यपाल आगरा से लौटी हैं, इस दौरान सुरक्षा अधिकारी व स्टाफ के कुछ अन्य लोग भी उनके साथ गए थे।

हल्द्वानी: कोरोना उम्र, समय या आपकी कार्यशैली देख कर नहीं आता। यह बीमारी किसी को भी हो सकती है, कोई भी कभी भी इसकी चपेट में आ सकता है। उत्तराखंड राजभवन के अनुसार राज्य का एक बड़ा नाम कोरोना संक्रमित पाया गया है। दरअसल प्रदेश की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य की कोरोना जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिसके बाद उन्होंने खुद को आइसोलेट भी कर लिया है। राज्यपाल ने इस बात की जानकारी खुद ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए दी है। इसके अलावा उन्होंने पिछले कुछ दिनों में संपर्क में आए सभी लोगों से एहतियात बरतने व जांच कराने की अपील भी की है।

हाल में कोरोना संक्रमण उत्तराखंड में काफी तेज़ी से फैल रहा है। रविवार को प्रदेश की राज्यपाल में भी कोरोना की पुष्टि हुई है। जानकारी के अनुसार राज्यपाल ने एक सुरक्षा अधिकारी की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अपनी जांच कराई थी। कोरोना की पुष्टि होते है वे होम आइसोलेशन में हैं। बता दें कि उनमें किसी भी तरह के लक्षण नहीं पाए गए हैं। इसके अलावा बताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले ही राज्यपाल आगरा से लौटी हैं। इस दौरान सुरक्षा अधिकारी व स्टाफ के कुछ अन्य लोग भी उनके साथ गए थे। इनमें कुछ के सैंपल ले लिए गए हैं, जबकि कुछ के सोमवार को लिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी: खुदकुशी का था पूरा प्लान, फेसबुक पर लिखी पोस्ट ने बचाई युवक की जान

यह भी पढ़ें: 12 महीनों मिलेगा रोजगार, सतपाल महाराज ने बताया पर्यटन से जुड़ी गतिविधियों को ज़रूरी

राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने हाल ही में उत्तराखंड के दौरे पर आए महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी व प्रदेश के उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत के साथ शनिवार को मुलाकात की थी। वहीं रविवार को मसूरी के विधायक गणेश जोशी भी उनसे मिले थे। महाराष्ट्र के राज्यपाल ने रविवार को दून में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में भी शिरकत की। ऐसे में स्थानीय प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग की भी बेचैनी बढ़ गई है। इतने सारे लोगों से मिलने का मतलब है संक्रमण और भी जगह फैला होगा।

रविवार को प्रदेश में 466 नए मामले आए सामने आए हैं। 256 ठीक हुए, जबकि नौ संक्रमित मरीजों की मौत हुई। देहरादून में 181, पौड़ी 65, हरिद्वार 53, नैनीताल 40, पिथौरागढ़ 38, ऊधम सिंह नगर 23, चमोली 16, उत्‍तरकाशी 15, टिहरी 14, चंपावत 7, अल्‍मोड़ा 5, बागेश्‍वर 5 और रुद्रप्रयाग में पांच मामले आए। वहीं, राज्‍य में अबतक 71256 पॉजिटिव मामले आ चुके हैं, इनमें से 65102 लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि कुल मिला कर 1155 की मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के बॉर्डर्स पर और बसों में शुरू हुई रैंडम कोरोना टेस्टिंग, बढ़ते संक्रमण से स्वास्थ्य विभाग सचेत

यह भी पढ़ें: 104 पर शिकायत करें या पाएं जानकारी,उत्तराखंड में स्वास्थ्य सेवाओं के लिए हेल्पलाइन जारी

जानकारी के अनुसार पांचवें राज्य वित्त आयोग के अध्यक्ष और पूर्व मुख्य सचिव इंदु कुमार पांडे में भी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। जिसके कारण 23 से 27 नवंबर तक चार जिलों में प्रस्तावित आयोग का जन सुनवाई कार्यक्रम स्थगित किया गया है। आयोग के सदस्य सचिव व अपर सचिव भूपेश तिवारी ने बताया कि जन सुनवाई का संशोधित कार्यक्रम बाद में जारी किया जाएगा।

इसके अलावा हरिद्वार में सीडीओ विनीत तोमर के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद वे होम आइसोलेशन में हैं। उनके कार्यालय और आवास के 27 कर्मियों में से 26 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है।

यह भी पढ़ें: नैनीताल: मतदान सूची में चाहिए बदलाव तो 15 दिसंबर तक भरे आवेदन, चुनावी तैयारियां शुरू

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: घरों से वंचित ग्रामीणों को मिलेगा घर, 2022 तक 80 हज़ार आवास बांटने का प्लान

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now