परिवार कर रहा था 14 साल की बच्ची की शादी की तैयारी, हल्द्वानी चाइल्डलाइन हेल्प डेस्क ने इरादों पर फेरा पानी

हल्द्वानी: बाल विवाह कानूनन अपराध है। यह बात हरेक जगह, कही जाती है, लिखी जाती है। मानते हैं कि आधुनिक ज़माने में इस तरह के अपराधों पर सख्त कानून बनने से रोक तो लगी है। मगर अब भी इस तरह के मामले सामने आ ही जाया करते हैं। हल्द्वानी रेलवे स्टेशन के पास से बाल विवाह की घटना सामने आई है। बहरहाल यहां संचालित हो रहे चाइल्डलाइन हेल्प डेस्क की मदद से विवाह को रुकवा दिया है।

हल्द्वानी के रेलवे स्टेशन के पास चाइल्डलाइन हेल्प डेस्क काफी समय से बेहतर काम कर रहा है। इसमें तैनात अधिकारियों और कर्मचारियों की ड्यूटी होती है कि बच्चों की हर परेशानी को दूर किया जाए। प्रताड़ित बच्चों की समस्याओं को सुनने के बाद उनका निराकरण किया जाए। अब मामला यह है कि हेल्प डेस्क की मदद से ही रेलवे स्टेशन के पास स्थित झुग्गी बस्तियों में रहने वाली किशोरी का बाल विवाह रुकवाया गया है।

यह भी पढ़ें: वसीम जाफर को मिला अपने पूर्व कप्तान का साथ, कुंबले बोले मैं तुम्हारे साथ हूं वसीम

यह भी पढ़ें: पौड़ी में किए काम को नैनीताल में दोहराएंगे डीएम गर्ब्याल,सेब उद्यान विकसित करने का बनाया प्लान

चाइल्डलाइन हेल्पडेस्क के समन्वयक विनोद टम्टा ने मामले की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बीती पांच फरवरी को दो किशोरियों के बाल विवाह की शिकायत मिली थी। किशोरियों की उम्र लगभग 14 वर्ष बताई गई। जानकारी मिलने के बाद मामले को संज्ञान में लिया गया।

विनोद टम्टा ने बताया कि दो में से एक किशोरी के परिवार जनों से बात की। जिसके बाद उन्हें बाल विवाह ना करने के लिए मना लिया गया है। इसके अलावा दूसरी लड़की के बारे में पता चला कि वह अभी तक घर ही नहीं लौटी है। उसके माता-पिता अलग अलग पता बता रहे हैं। इसी कारण से संशय बना हुआ है।

आपको बता दें कि अभी कुछ ही दिनों पहले केंद्रीय महिला व बाल विकास मंत्रालय की ओर से हल्द्वानी समेत देश के 14 बस अड्डों पर चाइल्डलाइन हेल्प डेस्क बनने की घोषणा की गई थी। जो कि जल्द ही बनने की उम्मीद भी की जा रही है। अगर यह बनते हैं तो लावारिस बच्चों को काफी सहायता मिल सकेगी। बता दें कि यह हेल्प डेस्क हर दिन चौबीसों घंटे संचालित की जाएगी।

यह भी पढ़ें: चमोली:धौलीगंगा का बढ़ा जल स्तर,रोकना पड़ा बचाव कार्य,टनल से निकली टीम,गांव में अलर्ट जारी

यह भी पढ़ें: चमोली आपदा में बढ़ा मौत का आंकड़ा, पिथौरागढ़ के रवींद्र कुंवर का शव मिला

यह भी पढ़ें: इस मामले में उत्तरकाशी बना राज्य का नंबर वन जिला, सीएम रावत हुए जनता के परिश्रम के मुरीद

यह भी पढ़ें: साइबर ठगों की हिम्मत तो देखिए, मुखानी थाने के एसओ की बनाई फेक आइडी और मांगने लगे रुपए

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now