हल्द्वानी:आरोपी ने अखबार में देखा विज्ञापन फिर दी जय गुरु ज्वेलर्स की मालकिन को धमकी

हल्द्वानी:शहर की पुलिस ने जय गुरु ज्वेलर्स की स्वामी रीता खंडेलवाल से 50 लाख की फिरौती मांगने के मामले में खुलासा कर दिया है। इस मामले में पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें तीन पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। रीता खंडेलवाल को धमकी देने वाला शख्स जेल में बंद है। एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने बताया कि 1 फरवरी को जय गुरु ज्वेलर्स की स्वामी रीता खंडेलवाल ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई कि उन्हें एक नंबर से कॉल आया था।

कॉल करने वाले युवक ने अपना नाम दल्लू बताया और 50 लाख रुपए की फिरौती मांगी। रुपए ना देने पर बच्चों को जान से मारने की धमकी दी। पुलिस ने तत्काल मामले में मुकदमा दर्ज कर पुलिस क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी भूपेंद्र सिंह धौनी के पर्यवेक्षण में एसओजी की संयुक्त टीमों का गठन किया और जांच शुरू कर दी।

पुलिस ने जब फिरौती के लिए आने वाले कॉल नंबर को ट्रेस किया तो वह नंबर घटना के समय केंद्रीय कारागार सितारगंज यानी सितारगंज जेल में एक्टिव पाया गया। पुलिस जांच में सामने आया कि यह नंबर दुर्गा प्रसाद निवासी रुद्रपुर के नाम पर दर्ज है, पूछताछ में उन्होंने बताया कि यह नंबर उनका नहीं है।

पुलिस की जांच आगे बढ़ी तो पता चला कि यह सिम महेंद्र गंगवार और नरेंद्र गंगवार ने अपने दोस्त दीपक राठौर को दिया। महेंद्र और नरेंद्र सिम बेचने का काम करते हैं। दीपक राठौर का भाई राहुल राठौर हत्या के मुकदमे में आजीवन कारावास की सजा के लिए दंडित हुआ है और सितारगंज सेंट्रल जेल में बंद है। यह सिम उस तक पहुंचाया गया। राहुल राठौर जेल में बंद होकर अपना वर्चस्व बढ़ाने के लिए प्रभावशाली व पैसे वाले लोगों से रंगदारी वसूलने की योजना बनाने लगा।

पुलिस ने बताया कि राहुल राठौर ने अपनी महिला मित्र अंकिता पत्नी धीरेंद्र कुमार और अंजलि उर्फ अंजू पत्नी अजय रस्तोगी जो कि जेल में मिलने आते जाते रहते थे एक फर्जी सिम की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी दी थी। इसके लिए अपने भाई दीपक राठौर की मदद लेने के लिए भी कहा जिसके बाद अंकिता और अंजलि ने दीपक राठौर से संपर्क किया।

महेंद्र और नरेंद्र जो कि सिम कार्ड बेचने का काम करते थे उन्होंने दुर्गा प्रसाद का नंबर पोर्ट करने के बहाने उनकी आईडी का इस्तेमाल करते हुए स्कैन करा कर ले लिया और जेल में जाकर राहुल राठौर को दे दिया। जेल में बंद आरोपी ने महिला के पति के श्राद्ध का विज्ञापन अखबार में देखा था और वहां से नंबर प्राप्त किया।

पुलिस ने पांच आरोपियों को किया गिरफ्तार

1-दीपक राठौर पुत्र श्याम चरण राठौर निवासी खेड़ा वार्ड नं0 5 रुद्रपुर जिला उधम सिंह नगर
2-नरेन्द्र कुमार गंगवार पुत्र तुलारा निवासी ग्राम बकेनिया घाट तह0 व थाना मिलक जनपद रामपुर उत्तर प्रदेश
3-महेन्द्र सिंह गंगवार पुत्र सोमपाल निवासी ग्राम खेड़ा कालोनी वार्डन – 05 थाना ट्रांजिट कैम्प उधम सिंह नगर
4-अंकिता पत्नी धीरेन्द्र कुमार यादव निवासी फूलपुर आजमगढ़ कस्बा नजीबाबाद जिला आजमगढ़ उत्तर प्रदेश
हाल पता – शिवपुरी दमुवाढूँगा थाना काठगोदाम
5- अंजलि उर्फ अंजू पत्नी अजय रस्तोगी निवासी फ्लैट नं0 12 जानकी देवी मार्केट थाना कोतवाली हींग की मण्डी जनपद आगरा उत्तर प्रदेश
6-राहुल राठौर पुत्र श्याम चरण राठौर निवासी खेड़ा वार्ड नं0- 05 थाना रुद्रपुर जिला उधम सिंह नगर हाल पता सजायापी कैदी केन्द्रीय कारागार सितारंगज जिला उधम सिंह नगर (वांछित )

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now