झूलाघाट : तहसील पिथौरागढ़ के दोबांस क्षेत्र में वृद्ध दंपती के साथ मारपीट कर जान से मारने की धमकी देने के आरोप में गिरफ्तार ग्रामीण पुलिस को चकमा देकर थाने से हथकड़ी के साथ ही फरार हो गया है। आरोपी के नेपाल फरार होने की संभावना से पुलिस परेशान है। सीओ के नेतृत्व में पुलिस नेपाल सीमा पर गश्त कर रही है।

विकास खंड मूनाकोट के नेपाल सीमा से लगे दोबांस निवासी सुरेश प्रसाद उर्फ संजय जानवरों के आंख और कान निकाल कर उन्हें गबड़ा धारे में के पास छोड़ देता है। जानवरों की मौत होने से इस धारे का पानी प्रदूषित हो जाता है। इस पर गांव के ही बुजुर्ग महेश जोशी ने जब सुरेश से ऐसा करने से मना किया। इस पर सुरेश ने महेश और उनकी पत्नी के साथ मारपीट की और जान से मारने की धमकी दी। महेश की तहरीर पर झूलाघाट पुलिस  सुरेश को गिरफ्तार कर थाने लाई। गुरुवार को पूछताछ के दौरान उसने लघु्रशंका जाने का बहाना बताया और  हथकड़ी के साथ वह फरार हो गया। उसके नेपाल भागने की पूर्ण संभावना है।

इसकी भनक लगते ही सीओ शेखर सुयाल के नेतृत्व में पुलिस इस मामले को लेकर फरार आरोपी की तलाश में जुटी है। झूलाघाट में पुलिस फोर्स बढ़ चुकी है। यहां तक कि एनडीआरएफ भी भेजी जा चुकी है। पुलिस आरोपी के नेपाल भागना तय मान चुकी है। अलबत्ता पुलिस अभी तक इसकी पुष्टि नहीं कर रही है।

पिथौरागढ़ पुलिस अधीक्षक अजय जोशी ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि मारपीट का आरोपी पुलिस कस्टडी से फरार है। उसकी खोजबीन में सीओ के नेतृत्व में पुलिस तैनात कर दी गई है। इस मामले की जांच की जा रही है। जांच में दोषी पाए जाने वाले पुलिस कर्मियों को बख्शा नहीं जाएगा।