शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों को पकड़ने के लिए हल्द्वानी पुलिस को मिला ये स्मार्ट यंत्र

हल्द्वानी: शराब पीकर गाड़ी चलाने वालों को पकड़ने के लिए पुलिस को स्मार्ट यंत्र मिल गया है। शरब पीकर गाड़ी चलाने वालों को पुलिस एल्कोमीटर के माध्यम से पकड़ती है। पुलिस का यह यंत्र अब आधुनिक हो गया है और इसमें लगा कैमरा पुलिस की मदद करेगा,यानी शराब पीकर गाड़ी चलाने वालो की फोटो भी अब एल्कोमीटर में कैद होगी। यातायात पुलिस ने पांच मेगापिक्सल कैमरों से युक्त 219 एल्कोमीटर की खरीद की है।
राज्य की यातायात पुलिस ने ये एल्कोमीटर 13 जिलों की पुलिस को बांट दिए है। इनमें 40 एल्कोमीटर देहरादून और 40 हरिद्वार पुलिस को दिए गए हैं। ऊधमसिंह नगर और नैनीताल जिले को 30-30, अल्मोड़ा, पौड़ी, टिहरी, पिथौरागढ़ को 10-10, चमोली, बागेश्वर, उत्तरकाशी, चंपावत को आठ-आठ और रुद्रप्रयाग को सात एल्कोमटर आवंटित किए गए हैं। यातायात पुलिस के पास पहले 262 एल्कोमीटर थे। 219 नए एल्कोमीटर आने के बाद यह संख्या 481 हो गई है।
शराब पीकर गाड़ी चलाने के कारण सड़क हादसों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है। शराब पीकर गाड़ी चला रहे चालक अपने अलावा दूसरे लोगों की जान पर भी खतरा बन रहे हैं। इस कारण से डीआईजी यातायात केवल खुराना ने सीपीयू और यातायात पुलिस को शराब पीकर वाहन चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं।
पुलिस उप महानिरीक्षक यातायात केवल खुराना ने बताया कि सड़क हादसों की संख्या कम करने और शराब पीकर वाहन चलाने वाले चालकों पर शिकंजा कसने के लिए यातायात निदेशालय की तरफ से उच्च गुणवत्ता वाले 219 एल्कोमीटर की खरीद की गई है।नए एल्कोमीटर में पांच मेगापिक्सल का कैमरा भी लगा है। एल्कोमीटर से चेकिंग के दौरान शराब पीकर वाहन चलाने वाले की फोटो भी कैद हो जाएगी। इससे उनका रिकॉर्ड दर्ज हो पाएगा। दो से अधिक बार पकड़ में आने वाले चालकों का ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त कराकर उन्हें भविष्य में वाहन चलाने के लिए अयोग्य घोषित किया जाएगा।