हल्द्वानी में डेंगू मचा रहा कोहराम, डेंगू से महिला की मौत, अस्पताल में तोड़ा दम

हल्द्वानीः शहर में डेंगू ने कोहराम मचा रखा है। डेंगू के डंक से आए दिन लोगों की मौत हो रही है। डेंगू के वजह से शहर में आवास विकास की रहने वाली एक महिला की मौत हो गई है। परिवारवालों के अनुसार इलाज के दौरान बरेली स्थित एसआरएमएस अस्पताल में 27 सितंबर को मौत हुई है।

बता दें कि आवास विकास में रहने वाली हेमा देवी (42) को बुखार की शिकायत हुई थी। बेटी अंजलि फुलारा का कहना है कि उन्होंने बुखार और लक्षणों के आधार पर एक निजी संपर्क के जरिए जांच कराई थी। उसमें डेंगू का पता चला। 26 सितंबर को तबीयत खराब होने पर नैनीताल रोड स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां डॉक्टरों ने इलाज के दौरान आईसीयू में भर्ती किया। अंजलि का कहना है कि 26 की रात हेमा देवी को तबीयत और खराब होने पर अस्पताल प्रबंधन ने दूसरे अस्पताल ले जाने की बात कही। अस्पताल ने रेफर संबंधी कागज में डेंगू शॉक सिन्ड्रोम के बारे में बताया।

इसके बाद परिवारवालों ने 26 की देर रात हेमा देवी को लेकर बरेली स्थित एसआरएमएस में भर्ती कराया। यहां भी उन्हें आईसीयू में भर्ती किया गया। जहां इलाज के दौरान 27 सिंतबर की दोपहर में मौत हो गई। वहीं स्वास्थ्य विभाग ने डेंगू से महिला की मौत की जानकारी होने से इंकार किया है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. भारती राणा का कहना है कि डेंगू से मौत होने की जानकारी नहीं है।

हेमा देवी की मौत के बाद परिवारवालों ने अस्पतालों की व्यवस्थाओं पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि आईसीयू में भर्ती मरीज को देखने के लिए रोका जाता है, जो सही नही है। मृतक के परिवार में कोहराम मच गया है। बता दें कि स्वास्थ्य विभाग के अनुसार शनिवार को बेस, एसटीएच और निजी अस्पतालों में डेंगू के 65 रोगी अस्पतालों में भर्ती हैं। अब तक 1534 डेंगू रोगियों की पुष्टि हो चुकी है। शहर में अब तक डेंगू से 14 मौत हो चुकी है।

यह भी पढ़ेंः रातों-रात सोशल मीडिया की स्टार बनी हरिद्वार की युवती, वीडियो हुआ वायरल

यह भी पढ़ेंः उत्तराखण्ड अंडर-19 टीम का हुआ ऐलान, हल्द्वानी के इन दो खिलाड़ियों ने बनाई जगह

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः घर के बाहर खड़ी किशोरी से दुष्कर्म का प्रयास, आरोपित युवक गिरफ्तार

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानीः स्कूल में छात्रा की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, ई रिक्शे में ले गए शव