तनाव के चलते छात्रा ने खत्म की जीवनलीला, कहा मैं जीना नहीं चाहती…रूला देगा अंतिम खत

नई दिल्लीः भारत में आत्महत्या के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। इस लिस्ट में युवाओं की संख्या ज्यादा है। एक बार फिर आत्महत्या के मामले ने क्षेत्र में सनसनी फैला दी है। मामला मेरठ के माधवपुरम का है। शनिवार को एक 17 वर्षीय छात्रा ने अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी। छात्रा ने पहले ब्लेड से अपनी नस काटी और फिर  पानी की टंकी से छलांग लगा दी।
खबर के अनुसार छात्रा शनिवार रात ढाई बजे अपने घर से निकल गई और उसने टंकी के नीचे खड़े होकर ब्लेड से अपनी हाथ की नस काटी। जिसके बाद छात्रा के हाथ से खून बहने लगा और जिसके बाद छात्रा टंकी के ऊपर चढ़ गई। वो जोर-जोर से कह रही थी- मैं जीना नहीं चाहती और मरने जा रही हूं। स्थानी य निवासी राजू ने बताया आवाज सुनकर जब वो बाहर आया तो उसे किसी के गिरनी की आवाज आई। जब वह भागकर छात्रा के पास पहुंचा तो छात्रा खुन से लथपथ बेहोश पड़ी थी। शोर सुनकर आसपास के लोग इकठ्ठा हो गए। ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र की लक्ष्मणपुरी निवासी छात्रा चावड़ी देवी इंटर कॉलेज में कक्षा 11 की पढ़ाई कर रही थी।
मामले के बाद लोगों ने माधवपुरम चौकी को सूचना दे दी। मौके पर माधवपुरम चौकी इंचार्ज अंकित चौहान और फिर इंस्पेक्टर ब्रह्मपुरी रघुराज सिंह पहुंचे। पुलिस ने छात्रा को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। रविरार सुबह जब छात्रा को होश आया तो असने अपना नाम और पता बताया। पुलिस ने छात्रा के परिवालवालों को जानकारी दी जिसके बाद परिवालवालें अस्पताल पहुंचे। 3 बजे छात्रा की मौत हो गई। पुलिस ने पंचनामा करके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने बताया कि परि। दोपवार ने तहरीर देने से इंकार कर दिया। पुलिस के मुताबिक छात्रा 3 दिन से तनाव में थी। मामले से पहले छात्रा का अपने परिवालवालों से लड़ाई हुई थी।