शिक्षा की नई पारी खेलेगा उत्तराखंड , अप्रैल से शुरू होगा ‘हैप्पीनेस करिकुलम’ कोर्स

नई दिल्लीः हर एक क्षेत्र में अपना लोहा मनवाने वाला राज्य उत्तराखंड अब शिक्षा के क्षेत्र में भी अपना एक नया कदम उठा रहा है। दिल्ली के बहुचर्चीत हैप्पीनेस कोर्स को अपनी एजुकेशन सिस्टम में लेने जा रहा है। जिसकी शुरूआत उत्तराखंड जुलाई में करेगा। उत्तराखंड में हैप्पीनेस कोर्स के बारे में उत्तराखंड के शिक्षा अधिकारियों का कहना है कि लोकसभा चुनाव की आचार संहिता की वजह से इस कोर्स की शुरुआत अप्रैल में नहीं की जा सकती है।‘हैप्पीनेस करिकुलम’ के तहत नर्सरी से लेकर 8वीं क्लास तक के बच्चों को भावनात्मक रूप से मजबूत करना है। स्कूलों में हर रोज 45 मिनट का ‘हैप्पीनेस’ पीरियड होता है। इस पीरियड की शुरुआत 5 मिनट के मेडीटेशन के साथ होती है। ‘हैप्पीनेस करिकुलम’ कोर्स में बच्चों को कहानियों के जरिए अच्छी बातें सिखाई जाती है। सरकार ने इस योजना पर एक किताब भी जारी की गई है।

उत्तराखंड के साथ ही आंध्र-प्रदेश ने भी इस एजुकेशन सिस्टम को अपनी शिक्षा प्रणाली में जोड़ने की बात कही है। अब अन्य राज्य भी दिल्ली सरकार की ओर से एजुकेशन सिस्टम में किए गए बदलावों को अपनाने की इच्छा व्यक्त कर रहे हैं। वहीं लद्दाख, तमिलनाडु, तेलंगाना और झारखंड राज्य भी इस कोर्स में अपनी रूचि दिखा चुके हैं।बता दें कि दिल्ली सरकार ने 2018 में सरकारी स्कूलों में इस कोर्स की शुरुआत की थी। इसके लिए शिक्षकों को ट्रेनिंग दी गई थी और शिक्षकों के लिए हैंडबुक भी बनाए गए थे। दिल्ली सरकार के इस कोर्स की काफी चर्चा हुई थी और कई संगठनों ने इसकी तारीफ भी की थी, जिसमें बच्चों को सिर्फ पढ़ाई के साथ अलग एक्टिविटी भी करवाई जाती है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now