Breaking: हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बची नैनी-दून जन शताब्दी ट्रेन, टूटी थी पटरी

हल्द्वानी: राजधानी देहरादून के लिए काठगोदाम से शुरू हुई naini-doon जन शताब्दी अपने पहले ही दिन हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बची है। ट्रेन जैसे ही मुरादाबाद पहुंचने वाली थी उससे पहले ही ट्रेन की पटरी टूटी हुई मिली। वो तो चालक ने समझदारी दिखाते हुए ट्रेन को मौके पर ही रोक दिया नहीं तो कोई बड़ी हानि हो सकती थी। ट्रेन की पटरी को जोड़ने वाला हुक निकला हुआ था। इससे जोड़ने में करीब 30 घंटा लगा और ट्रेन उसके बाद मुरादाबाद पहुंची। घटना 8.30 बजे की है।

बता दें कि इस ट्रेन का शुभारंभ 25 अगस्त को किया गया था। वहीं सोमवार से ट्रेन अपनी रूटीन में दौड़ने लगी थी। नैनी-जन शताब्दी ट्रेन(12092 ) सुबह 5.30 बजे कोठगोदाम स्टेशन से निकली थी। फिलहाल घटना का मुख्य कारण सामने नही आया है लेकिन ट्रेन की पटरी का हुक कैसे निकला ये समझ से परे है? इस घटना के सामने आने के बाद रेलवे प्रशासन में हड़कंप मच गया है।

बता दें कि रेलवे मंत्री पीयूष गोयल वीडियो कांफ्रेंसिंग से ट्रेन को 25 अगस्त को 12 बजे देहरादून के लिए रवाना किया था। रेल मंत्री की ओर से सांसद भगत सिंह कोश्यारी और राज्य सभा सांसद अनिल बलूनी ने हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना किया था। रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि यह ट्रेन बड़ी उपलब्धि करार दिया था। लेकिन इस तरह की लापरवाही ने एक बार फिर रेलवे प्रशासन की प्रणाली पर सवाल उठाए हैं।