क्राइस्टचर्च हमले में एक भारतीय ने गंवाई जान, 5 भारतीय अभी तक लापता

नई दिल्लीः न्यूजीलैंड में क्राइस्टचर्च की मस्जिदों में शुक्रवार दोपहर की नमाज के दौरान हमलावरों की गोलीबारी में कई लोगों की मौत हो गई और कई अन्य लोग घायल हो गए। हमलावरों द्वारा दो मस्जिदों को निशाना बनाया गया था। पहला हमला अल नूर मस्जिद में हुआ वहीं क्राइस्टचर्च के उपनगरीय इलाके लिनवुड में भी एक मस्जिद में फायरिंग हुई थी। घटना के बाद चारों तरफ अफरातफरी मच गई थी। क्राइस्टचर्च मस्जिद में बेरहमी से किये गए इस हमले में एक भारतीय की मौत हो गई है। मरने वाले की पहचान गुजरात के नवसारी में रहने वाले जुनैद कार नाम के तौर पर की गई है। जुनैद पिछले कई सालों से न्यूजीलैंड में अपने परिवार के साथ रह रहा था और वहां एक स्टोर चलाता है। शुक्रवार का दिन न्यूजीलैंड के लिए एक काला दिन था। जुनैद शुक्रवार को मस्जिद में नमाज अदा करने गया था तभी उस समय हमलावर ने उस पर गोली चला दी।
न्यूजीलैंड में हुए इस दिल दहला देने वाले हादसे के बाद भारत सरकार के सूत्रों का कहना है कि इस हादसे के बाद 5 भारतीय की कोई खबर नहीं है, जबकि 2 लोग गंभीर रूप से गायल हैं। दोनों का इलाज चल रहा है। लापता होने वालों में दो भारतीय मूल के हैं, जो न्यूजीलैंड के नागरिक हैं। बता दे कि शनिवार को आरोपी ब्रेंटन हैरिसन टारंट को कोर्ट में पेश किया गया। आरोपी को बिना किसी दलील सुने 5 अप्रैल तक हिरासत में रखा गया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमले में मारे गए लोगों के प्रति गहरा शोक जताया है और घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करी।