बेटी को अफसर बनाने के लिए मां ने बेचा दूध, हल्द्वानी की भावना को ISS में 5वां स्थान

हल्द्वानी: शहर एक बार फिर बेटी की कामयाबी की वजह से सुर्खियों में है। वह अपने आप को गौरवांवित महसूस कर रहा है। ये इसलिए कि कामयाबी तक पहुंचने के लिए मां और बेटी ने तमाम बांधाओं को पार किया। हार ना मानने के जज़्बे को अब समाज सलाम कर रहा है। हल्द्वानी लामाचौड़ निवासी भावना जोशी ने इंडियन स्टैटिस्टिकल सर्विस परीक्षा में ऑल इंडिया स्तर पर पांचवीं रैंक हासिल की है। परीक्षा में सफलता के बाद भावना के परिवार में खुशी का माहौल है। भावना ने घर पर ही परीक्षा की तैयारी की। पछले वर्ष 2019 जून में परीक्षाऔर दिसंबर में इंटरव्यू हुआ।  भावना मूल रूप से बागेश्वर जिले की रहनी वाली हैं।

 इंडियन स्टैटिस्टिकल सर्विस परीक्षा-2019 के परीक्षा परिणाम शुक्रवार को घोषित हुए तो जोशी परिवार का सपना साकार हो गया। सालों की मेहनत आंखों से आंसू के रूप में दिखने लगे। भावना जोशी के घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। भावना ने बहाना नहीं बनाया और ट्यूशन पढ़ाकर अपने सपने को साकार करने की राह पर निकल पड़ी। भावना जोशी ने अपनी बारहवीं तक की परीक्षा जीआईसी लामाचौड़ से प्राप्त की है। इसके अलावा उन्होंने स्कूल और परीक्षा की तैयारी के लिए कभी कोचिंग की सहायता नहीं ली। भावना के पिता अल्मोड़ा मैग्नेसाइट लिमिटेड कंपनी में इलैक्ट्रीशियन के पद पर कार्यरत हैं जबकि उनकी माता लीला जोशी एक कुशल गृहिणी है। और उन्होंने भी गाय का दूध बेचकर अर्जित धन से बच्चों के सुरक्षित भविष्य की नींव रखी।

भावना ने दसवीं में 73 प्रतिशत अंक तो बारहवीं में 71 प्रतिशत अंक हासिल है। इसके बाद एमबीपीजी कालेज में बीएससी में दाखिला लेने वाली भावना ने अपनी कालेज की पढ़ाई का खर्चा घर पर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाकर निकाला और बीएससी के बाद पंतनगर कॉलेज से एमएससी करने के दौरान स्कालरशिप हासिल कर अपनी पढ़ाई जारी रखी।  भावना ने अपनी सफलता को श्रेय माता पिता को दिया।