हल्द्वानी: जनता CURFEW के दिन लोगों ने समर्थन दिया तो लॉक डाउन के पहले दिन ही वह बेफिक्र नजर आ रहे हैं। हल्द्वानी में कुछ ऐसे ही नाजारा है। कोरोना वायरस के चलते सीएम त्रिवेंद्र रावत ने रविवार को राज्य में 31 मार्च तक लॉक डाउन का आदेश दिया है लेकिन लोग इसका पालन करने के बजाए जोखिम उठाकर घर से बाहर निकल रहे हैं। हल्द्वानी में सुबह से ऐसे ही नाजार दिखाई दे रहा है। मुख्य चौराहे पर पुलिस तैनात हैं और लोगों घर पर रहने की अपील कर रही है।

प्रशासन के अधिकारी सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह, एसडीएम विवेक राय एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव शहर के हर चौराहे पर जनता को जागरूक कर रहे हैं। शहर में भारी संख्या में पुलिस फोर्स भी शहर में दिखाई दी जो शहर में हर चौराहे पर बैरिकेडिंग लगाकर लोगों को मास्क पहनकर चलने की अपील कर रही है। लॉक डाउन को लेकर प्रशासन का कहना है कि शहर में खाद्यान्न का कोई संकट नहीं है, लिहाजा लोगों को धैर्य के साथ रहने की आवश्यकता है।

इसके अलावा ब्लैक मार्केटिंग करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई कर रहा है। इस बारे में एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव का कहना है कि लोग घर पर ही रहे। हालात इसी से सकारात्मक दिशा की ओर जा सकते हैं। अगर आप महत्वपूर्ण काम के लिए बाहर निकल रहे तो एक बार में ही उसे पूरा कर ले। एक दूसरे का सहारा बने और इस कोरोना वायरस को हराने में अपना सहयोग दें।

बता दें कि लॉक डाउन के पहले दिन हल्द्वानी की मुख्य मार्गों पर लोगों की आवाजाही देखने को मिल रही है जो जनता curfew की तुलना में ज्यादा है। सिटी मजिस्ट्रेट प्रत्यूष सिंह का कहना है कि वह लॉक डाउन के बारे में शहरवासियों को जानकारी दे रहे हैं जल्द सारी व्यवस्था अनुशासित हो जाएगी।